--Advertisement--

बोर्ड परीक्षाएं शुरू लेकिन डीजे पर अब तक नहीं ं लगी रोक

भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा गुरुवार से कक्षा 12वीं की वार्षिक परीक्षाएं शुरू हो चुकी हैं। बोर्ड परीक्षाओं के...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 02:55 AM IST
भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा

गुरुवार से कक्षा 12वीं की वार्षिक परीक्षाएं शुरू हो चुकी हैं। बोर्ड परीक्षाओं के शुरू होने के बाद भी देर रात तक तेज आवाज में बज रहे डीजे पर रोक नहीं लगाए जाने से छात्र-छात्राओं को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अभिभावकों का कहना है कि शादी समारोह में रात दो से तीन बजे तक डीजे बज रहे हैं। इससे विद्यार्थी पढ़ाई नही कर पा रहे हैं। गार्डन व डीजे संचालकों से शिकायत करने के बाद भी न तो डीजे बंद किया जाता है और न ही साउंड की आवाज कम की जाती है। इससे हालत यह है कि बच्चे रात भर पढ़ाई नहीं कर पाते। विद्यार्थियों का कहना है कि बोर्ड परीक्षाओं में अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए दिन में करीब 8 से 10 घंटे पढ़ाई कर रहे हैं लेकिन रात के समय डीजे के शोर शराबे के कारण अध्ययन करना मुश्किल हो गया है। इस संबंध में छात्र संघ, अभिभावकों द्वारा एसडीएम सहित पुलिस अधिकारियों से शिकायत की जा चुकी है। इसके बाद तेज आवाज में देर रात तक बज रहे डीजे पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा रहा है। डीजे पर प्रतिबंध लगाए जाने की मांग को लेकर वंशकार समाज द्वारा भी एसडीएम को आवेदन सौंपा गया था। समाज सदस्यों ने कहा था कि डीजे के चलन में आने से वे बेरोजगार हो गए है। उन्होंने डीजे के तेज साउंड से आ रही परेशानी से निजात दिलाने की मांग की थी। एसडीएम सीपी गोहल ने जल्दी ही डीजे संचालकों की बैठक बुलाकर निर्देश देने की बात कही थी लेकिन अभी तक न तो बैठक बुलाई और न ही देर रात तक बजने वाले डीजे पर कार्रवाई की गई। नागरिकों का कहना है कि नियमों का उल्लंघन कर रहे डीजे संचालकों पर जल्द से जल्द कार्रवाई की जाए।