• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ganjbasoda News
  • अतिक्रमण को लेकर पुलिस-व्यापारियों के बीच झड़प, दल के जाते ही रख लिया सामान
--Advertisement--

अतिक्रमण को लेकर पुलिस-व्यापारियों के बीच झड़प, दल के जाते ही रख लिया सामान

भास्कर संवाददाता| गंजबासौदा दुकानों के सामने सड़क पटरी तक रखी सामग्री को हटाते समय दुकानदारों और व्यापारियों...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:30 AM IST
भास्कर संवाददाता| गंजबासौदा

दुकानों के सामने सड़क पटरी तक रखी सामग्री को हटाते समय दुकानदारों और व्यापारियों के बीच तीखी नोंक झोंक हुई। झूमा झटकी की नौबत आ गई। कुछ प्रभावी व्यापारी नेता अतिक्रमण करने वालों का पक्ष लेने लगे तो पुलिस दल को मदद के लिए फोर्स बुलाना पड़ा। कड़े विरोध के बाद भी पुलिस और नपा के कर्मचारी जितना सामान दुकानदारों का हटवाकर आए उनके जाने के बाद दुकानदारों ने फिर से उसी जगह सामान रख लिया। तीन दिन से यातायात पुलिस और नपा दुकानों के सामने सड़क तक रखे सामान को हटाने की मुनादी करा रही थी। जब व्यापारियों ने सामग्री नहीं हटाई तो बुधवार को सुबह दस बजे जयस्तंभ से हनुमान चौक के बीच कार्रवाई शुरु की गई। अतिक्रमण हटाने की खबर के बाद कुछ लोगों ने तो आनन- फानन में अपना सामान हटा लिया। लेकिन कई व्यापारियों ने नहीं हटाया। उनका सामान सख्ती के साथ हटवाया गया।

जय स्तंभ चौक से हनुमान चौक तक हालत खराब

जय स्तंभ चौक से हनुमान चौक तक मुख्य मार्ग के दोनों तरफ पटरियां गायब हैं। दुकानदारों से दस से पंद्रह फीट आगे तक सामान रखकर कब्जा कर रखा है। यातायात का दबाव इस क्षेत्र में सबसे ज्यादा रहता है। लोगों को वाहन पार्किंग सड़क पर करना पड़ती है। इससे पल- पल में जाम लगता है। तीन दिन से लगातार मुनादी कराई जा रही थी। दुकानदार अपना सामान हटा ले लेकिन नहीं हटाया तो उसे सख्ती से हटाया जाएगा। जब मुनादी के बाद भी सामग्री नहीं हटी तो मुहिम शुरु करने का निर्णय लिया गया।

चल रहा है शादियों का सीजन

इन दिनों शादियों का सीजन चल रहा है। पूरे शहर के वर वधु पारासरी नदी के समीप मां शीतला शक्ति धाम पर पूजन के लिए आते हैं। डीजे बैंड ऑटो खड़े करने पटरियां नहीं हैं। इससे सड़क पर कतार लगाकर खड़े रहते हैं। इससे आधी सड़क भी यातायात के लिए नहीं बचती। आधा-आधा घंटे जाम लगा रहता है। स्कूल, अस्पताल, नपा कार्यालय, शांतिधाम और मानस भवन यहां पर है। इससे भीड़ का दबाव बना रहता है। यह क्षेत्र संवेदनशील होने से दिन भर जाम के हालात बने रहते हैं। वैसे भी जय स्तंभ से हनुमान चौक तक सड़क भी सुरक्षित नहीं है।

पूरा शहर अतिक्रमण की चपेट में, हो रहे सड़क हादसे

सामाजिक कार्यकर्ता अशोक महलवाला ने बताया कि पूरा नगर अतिक्रमण की चपेट में है। नगर में लगातार यातायात बढ़ रहा है। अतिक्रमण के कारण सड़कें सिकुड़ रही हैं। इससे जगह- जगह सड़क हादसे हो रहे हैं। जाम लग रहे हैं। पटरियों पर अतिक्रमण होने के कारण वाहन पार्किंग सड़क पर हो रही हैं। शहर के यातायात को सुगम बनाने यातायात सड़क पार्किंग और अतिक्रमण के विरुद्ध पुलिस ने अभियान शुरु किया है। ऐसे अभियान शुरु होते ही उनको रोकने के लिए अतिक्रमण करने वाले राजनैतिक दबाव बनाकर अभियान रोकने का प्रयास कर देते हैं।

जिन व्यापारियों ने सामान नहीं हटाया उनका सामान सख्ती के साथ हटवाया