--Advertisement--

गेट नहीं होने से असामाजिक तत्वों का अड्डा बना स्कूल परिसर

गंजबासौदा| शासकीय माध्यमिक शाला पचमा का प्रांगण रोज छात्र और शिक्षक मिलकर साफ करते हैं लेकिन सुबह उनको परिसर में...

Danik Bhaskar | Jun 30, 2018, 02:35 AM IST
गंजबासौदा| शासकीय माध्यमिक शाला पचमा का प्रांगण रोज छात्र और शिक्षक मिलकर साफ करते हैं लेकिन सुबह उनको परिसर में खाली बोतलें कागज के टुकड़े, अंडों के छिलके पड़े मिलते हैं। स्कूल में बाउंड्रीवाल का दरवाजा नहीं होने के कारण रात के समय में कुछ असामाजिक तत्व प्रांगण में घुस आते हैं और शराब पीने के बाद खाली बोतल और खाली पैकेट्स छोड़ जाते हैं। जीवनलाल कुशवाह ने बताया कि टूटी बोतलों के कांच बच्चों के पैर में खेलते समय लग जाते हैं। जागेश्वर शर्मा का कहना है कि मुख्य मार्ग पर स्कूल स्थित होने के कारण आसपास से आने वाले लोग प्रांगण का उपयोग अहाते के रूप में करते हैं। अवधेश चावरिया का कहना है कि बाउंड्रीवाल का गेट जल्द लगाना चाहिए। किसी दिन बड़ा विवाद भी हो सकता है। स्कूल के प्रधानाध्यापक बीएल दिवाकर ने बताया कि इस समस्या के बारे में स्थानीय और जिले के विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया जा चुका है लेकिन इसके बाद भी कार्रवाई नहीं होने से समस्या बढ़ रही है।