• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ganjbasoda News
  • रथ यात्राओें में 3 दिन शेष, 1 माह पहले हुई सड़कों की मरम्मत, फिर हुए गड्‌ढे
--Advertisement--

रथ यात्राओें में 3 दिन शेष, 1 माह पहले हुई सड़कों की मरम्मत, फिर हुए गड्‌ढे

भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा आषाढ़ की दोज पर 14 जुलाई को आयोजित होने वाली भगवान जगन्नाथ रथ यात्राओं की नगर में...

Danik Bhaskar | Jul 11, 2018, 02:35 AM IST
भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा

आषाढ़ की दोज पर 14 जुलाई को आयोजित होने वाली भगवान जगन्नाथ रथ यात्राओं की नगर में तैयारियां शुरू हो गई हैं। जिन रथों में भगवान जगदीश को विराजमान करके निकाला जाएगा उनकी मरम्मत, सफाई, पुताई का कार्य शुरू हो गया है। नगर में तीन रथ यात्राएं अलग-अलग मार्ग और स्थानों से निकाली जाएंगी। रथ यात्रा देखने विकासखंड सहित आसपास की तहसीलों से नागरिक आते हैं। सुबह से शाम तक सड़कों से लेकर गलियों में भीड़ रहती है। इस धार्मिक आयोजन को लेकर नगर पालिका पुलिस और प्रशासन को पहले से ही सुरक्षा और व्यवस्था की तैयारियां करना पड़ती हैं।

रथों को सजाने का कार्य शुरू

रथ यात्रा के लिए बेतवा नौलखी मंदिर, भावसार मंदिर और पंचमुखी हनुमान मंदिर पर रथों की सफाई-पुताई के साथ उनको सजाने का काम चल रहा है। नौलखी मंदिर से रथ यात्रा ट्रैक्टर-ट्राली में रखे सिंहासन पर आती है जबकि बेदनखेड़ी जग्गा मंदिर से लकड़ी के रथ पर निकाली जाती है। इस बार नया रथ बनाया गया है। तीसरी यात्रा पंचमुखी हनुमान मंदिर से चार साल पहले शुरू की गई है। ट्रैक्टर-ट्राली को सजाकर निकाली जाती है। साल भर में एक बार होने वाले इस धार्मिक आयोजन के लिए रथों को सजाने का कार्य शुरू हो गया है।

रथ यात्रा के दिन करीब 50 हजार से ज्यादा श्रद्धालु बाहर से आते हैं