• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Ganjbasoda News
  • पारासरी पुल चौड़ीकरण स्वीकृति का श्रेय लेने भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने
--Advertisement--

पारासरी पुल चौड़ीकरण स्वीकृति का श्रेय लेने भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने

गंजबासौदा|पारासरी नदी पुल चौड़ीकरण स्वीकृति का श्रेय लेने के मामले में भाजपा और कांग्रेस आमने- सामने हैं। इधर...

Danik Bhaskar | Jun 29, 2018, 02:40 AM IST
गंजबासौदा|पारासरी नदी पुल चौड़ीकरण स्वीकृति का श्रेय लेने के मामले में भाजपा और कांग्रेस आमने- सामने हैं। इधर कांग्रेस विधायक निशंक जैन ने कहा है कि पारासरी पुल की समस्या का मुद्दा उन्होंने सांसद और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के सामने उठाते हुए पुल को चौड़ा करने की मांग रखी थी। इसके बाद चौड़ीकरण कार्य को स्वीकृति मिली।

इधर नपाध्यक्ष मधुलिका अग्रवाल का कहना है उन्होंने दस दिन के अंदर इस लंबित प्रस्ताव की स्वीकृति विदेश मंत्री के माध्यम से लोनिवि मंत्री रामपालसिंह से कराई है। इस काम के लिए किसी ने दो बार टेंडर नहीं डाले तो तीसरी बार टेंडर आया उसे स्वीकृत कराया। यह बात सही है कि पूर्व विधायक हरी सिंह रघुवंशी के समय से पारासरी चौड़ीकरण के लिए प्रस्ताव शासन को भेजा जा रहा था। स्वीकृति अब मिली है। यह भी तय है कि इस प्रस्ताव को स्वीकृति सांसद और विदेश मंत्री की पहल पर ही शासन से मिली है।

अब इसके श्रेय का दावा भाजपा के साथ कांग्रेस विधायक द्वारा भी किया जा रहा है।