--Advertisement--

भाभी और छोटे भाई ने हसिया मारकर की थी बड़े की हत्या

गंजबासौदा| 30 अप्रैल को सुबह डायल 100 के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई थी कि गांव वनवा जागीर में मोहरसिंह कुशवाह की...

Dainik Bhaskar

May 03, 2018, 02:50 AM IST
गंजबासौदा| 30 अप्रैल को सुबह डायल 100 के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई थी कि गांव वनवा जागीर में मोहरसिंह कुशवाह की हत्या हो गई है। सूचना पर थाना प्रभारी बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। मौके पर पहुंचकर देखा की घर के आंगन में मृतक मोहरसिंह कुशवाह की लाश क्षत विक्षत अवस्था में पड़ी हुई है। किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा मोहरसिंह कुशवाह की हत्या की गई थी।

प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए अनुसंधान दल का गठन किया गया। दल द्वारा घटना के प्रत्येक पहलू की बारीकी से विवेचना की गई। विवेचना के आधार पर मृतक मोहरसिंह के भाई हल्के कुशवाह एवं मृतक की प|ी सुनीताबाई जो मूक बधिर है से मूकबधिर विशेषज्ञों की मदद से पूछताछ की गई। विवेचना के दौरान मृतक के छोटे भाई हल्के कुशवाह से पूछताछ की गई। पूछताछ में उसने बताया कि मेरे व मेरी भाभी सुनीताबाई से अवैध संबंध थे। भाई ने एक बार मुझे भाभी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में देख लिया था। इसके बाद वह आए दिन लड़ाई करता था। घटना वाली रात भी लड़ाई हुई थी। इसी बात पर भाभी सुनीता एवं हल्के कुशवाह ने भाई मोहरसिंह की हसिया से मारपीट कर हत्या कर दी। पूछताछ में दोनों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। प्रकरण में प्रयुक्त हसिया पानी से साफ कर दिया था। घटना में प्रयुक्त हसिया जब्त कर आरोपियों की गिरफ्तारी की गई।

पुलिस अधीक्षक संपत उपाध्याय के निर्देशन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विनोदकुमारसिंह चौहान, थाना प्रभारी बासौदा देहात बृजेश भार्गव, उप निरीक्षक योगेंद्र परमार, सउनि ब्रह्मासिंह, आरक्षक वीरेंद्रसिंह, प्रवेंद्र नामदेव, नवीन, सुरेश, रतिराम ने प्रकरण सुलझाने में अहम भूमिका निभाई।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..