• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Ganjbasoda
  • स्टेशन से सिरोंज चौराहे तक अधिकारी तय नहीं कर सके कि आरसीसी होना है या डामरीकरण

स्टेशन से सिरोंज चौराहे तक अधिकारी तय नहीं कर सके कि आरसीसी होना है या डामरीकरण / स्टेशन से सिरोंज चौराहे तक अधिकारी तय नहीं कर सके कि आरसीसी होना है या डामरीकरण

Bhaskar News Network

Jul 14, 2018, 02:50 AM IST

Ganjbasoda News - भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा रेलवे स्टेशन से सिरोंज चौराहे तक टू-लेन मार्ग का निर्माण शुरू नहीं हो पा रहा है।...

स्टेशन से सिरोंज चौराहे तक अधिकारी तय नहीं कर सके कि आरसीसी होना है या डामरीकरण
भास्कर संवाददाता | गंजबासौदा

रेलवे स्टेशन से सिरोंज चौराहे तक टू-लेन मार्ग का निर्माण शुरू नहीं हो पा रहा है। सड़क के इस भाग में सीसी निर्माण होना है या फिर डामरीकृत होना है एमपी आरडीसी के अधिकारी यह तय नहीं कर पा रहे हैं। इधर बिजली के खंभे सड़क के बीच में शिफ्ट करने के लिए ठेकेदार मध्य क्षेत्र बिजली वितरण कंपनी से वर्क आर्डर मिलने के इंतजार में बैठा है। इससे बिजली के खंभों को शिफ्ट करने का कार्य शुरू नहीं हो पाया है। रेलवे स्टेशन से सिरोंज चौराहे के बीच सड़क निर्माण शुरू किया जाना है लेकिन सरकारी रवैए के चलते निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है जबकि अंबानगर से सिरोंज चौराहे के बीच चल रहे टू-लेन सीसी का निर्माण कार्य पूरा हो गया है। इस सड़क की साइडें बनाने के लिए मटेरियल डंप करने का कार्य किया जा रहा है। इसके बाद रेलवे स्टेशन से कार्य प्रारंभ किया जाना है।

खंभे होना है शिफ्ट


सड़क की ऊंचाई का विधायक निशंक जैन सहित व्यापारिक संगठन विरोध कर चुके हैं

खंभे शिफ्ट होने के बाद ही शुरू हो सकता है काम

स्टेशन से सावरकर चौक तक सड़क के दोनों तरफ लगे बिजली के सभी खंभे बीच में शिफ्ट किए जाना है। इस कार्य के पूरा होने के बाद ही सड़क का निर्माण शुरू किया जाएगा। इस कार्य के लिए बिजली कंपनी ने टेंडर जारी किया था। ठेकेदार ने कंपनी को राशि जमा नहीं की थी। इस कारण मामला अटका था। अब राशि जमा हो चुकी है। ठेकेदार को वर्क ऑर्डर जारी नहीं हुआ है। जैसे ही बिजली कंपनी वर्क ऑर्डर जारी करेगी। खंभे शिफ्ट करने का कार्य शुरू हो जाएगा।

इधर तय नहीं कर पाए अधिकारी

रेलवे स्टेशन से जय स्तंभ चौक तक डामरीकृत सड़क है है या जय स्तंभ से सिरोंज चौराहे तक सीसी सड़क है। एमपी आरडीसी के अधिकारी तय नहीं कर पाए हैं कि सड़क का यह भाग पूरा डामरीकृत बनेगा या सीसी करण किया जाएगा यदि नया सीसी करण होता है तो पुरानी सीसी की खुदाई करना पड़ेगी और डामरीकरण किया जाएगा तब सीसी की खुदाई नहीं करना पड़ेगी। नगर की सीमा में सीसी की ऊंचाई वर्तमान सड़क के समकक्ष रहना है। ऊंचाई का विधायक निशंक जैन सहित व्यापारिक संगठन विरोध कर चुके हैं।

खुदाई से यह है समस्या

हनुमान चौक के बाद सिरोंज चौराहे तक ट्रैफिक के लिए वैकल्पिक व्यवस्था समस्या है। अभी यह तय नहीं हो पाया कि सड़क पर निर्माण के दौरान ट्रैफिक कहां से डायवर्ट किया जाएगा। इसकी भूमिका पर विचार किया जाना है। कार्य के दौरान बारिश में समस्या आ सकती है।

...यह हो सकती है वैकल्पिक व्यवस्था

नपा पूर्व पार्षद, प्रतिपक्ष नेता सौदान सिंह यादव का कहना है कि सिरोंज चौराहे से हनुमान चौक तक दो टुकड़ों में कार्य होगा। सिरोंज चौराहे से सावरकर चौक के काम के दौरान ट्रैफिक सदर बाजार, श्वेतांबर मंदिर गली से चल सकता है। सावरकर चौक से कार्य होने पर ट्रैफिक जवाहर रोड होकर बेदनखेड़ी बायपास से नए बस स्टैंड सुंदर मंदिर से वार्ड क्रमांक 15 होते हुए पचमा बायपास से चल सकता है लेकिन चार पहिया वाहन को प्रतिबंधित कराना होगा। ऑटो, रिक्शा, दोपहिया वाहन ही चल सकते हैं।

X
स्टेशन से सिरोंज चौराहे तक अधिकारी तय नहीं कर सके कि आरसीसी होना है या डामरीकरण
COMMENT

किस पार्टी को मिलेंगी कितनी सीटें? अंदाज़ा लगाएँ और इनाम जीतें

  • पार्टी
  • 2019
  • 2014
336
60
147
  • Total
  • 0/543
  • 543
कॉन्टेस्ट में पार्टिसिपेट करने के लिए अपनी डिटेल्स भरें

पार्टिसिपेट करने के लिए धन्यवाद

Total count should be

543