--Advertisement--

क्षमता से अधिक मजदूरों को बैठा रहे ट्रैक्टर चालक

गंजबासौदा| कृषि कार्य के लिए बाहर से आने वाले मजदूरों को किसान ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से गांव तक ले जाते हैं। मजदूरों...

Danik Bhaskar | Jul 04, 2018, 04:20 AM IST
गंजबासौदा| कृषि कार्य के लिए बाहर से आने वाले मजदूरों को किसान ट्रैक्टर-ट्रॉलियों से गांव तक ले जाते हैं। मजदूरों की संख्या अधिक होने के बाद भी ट्रॉली में एक साथ सभी को बैठाकर ले जाया जा रहा है इससे कभी भी हादसा हो सकता है। नागरिकों का कहना है कि बाहर से पुरुषों की अपेक्षा महिलाएं कृषि कार्य करने के लिए अधिक संख्या में आती हैं। ट्रैक्टर में पुरुष बैठ जाते हैं जबकि ट्रॉली में महिलाएं। जगह नहीं मिलने पर ट्रॉली के ऊपरी हिस्से पर बैठकर सफर करती हैं। इसके चलते आवागमन के दौरान हमेशा हादसे का डर रहता है। नागरिकों का कहना है कि पुलिस द्वारा जयस्तंभ चौराहे पर जांच अभियान चलाकर बाइक पर तीन सवारी बैठाकर चलने वालों पर कार्रवाई की जाती है लेकिन लोडिंग ऑटो, चार पहिया वाहन व ट्रैक्टर ट्रॉलियों पर कार्रवाई नहीं की जाती।