--Advertisement--

56 बसों की जांच, 17 में जीपीएस-कैमरे नहीं मिले

भास्कर संवाददाता | मंदसौर/गरोठ परिवहन और शिक्षा विभाग के संयुक्त दल ने शनिवार को गरोठ-भानपुर क्षेत्र में स्कूल...

Dainik Bhaskar

Jan 28, 2018, 02:30 AM IST
भास्कर संवाददाता | मंदसौर/गरोठ

परिवहन और शिक्षा विभाग के संयुक्त दल ने शनिवार को गरोठ-भानपुर क्षेत्र में स्कूल बसों को लेकर जांच अभियान चलाया। सुबह 10 से शाम 4 बजे के बीच 56 स्कूल बसों की जांच की। इसमें से 17 में खामियां पाई गईं। जीपीएस और सीसीटीवी कैमरे नहीं मिले। इन पर विभाग ने 45000 रुपए का जुर्माना लगाया।

मंदसौर में 2 सप्ताह के दाैरान सेंट थॉमस स्कूल के बच्चों से भरी बस की वायरिंग में फाल्ट और सरस्वती उमावि संजीत मार्ग के बच्चों से भरी बस के ब्रेक फेल होने की घटना चर्चा का विषय रही थी। आरटीओ रंजनासिंह कुशवाह ने दोनों ही मामलों में बसों का फिटनेस निरस्त कर दिया था। साथ ही 15 साल पुरानी कु 15 स्कूल बसें चिह्नित की थी। इनके रजिस्ट्रेशन निरस्त करने की कार्रवाई की जाना है। शनिवार को परिवहन विभाग और शिक्षा विभाग के दल ने संयुक्त जांच अभियान चलाया। आरटीओ, शिक्षा विभाग के जिला खेल अधिकारी अशोक पाटीदार ने सुबह 11 बजे से कमला सकलेचा ज्ञान मंदिर, भैंसोदा स्थित ज्ञान विहार समेत अन्य स्कूलों में जांच की जांच की। 55 बसों में से 17 में ना तो जीपीएस लगा था और ना कैमरे मिले। कुछ में कैमरे बंद भी थे। इन वाहनों पर दल ने 45000 रुपए जुर्माना लगाया। साथ ही शिक्षा विभाग ने नोटिस भी जारी किए।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..