Home | Madhya Pradesh | Garoth | नवरात्रि के दौरान हजारों भक्तों ने ग्रहण किया प्रसाद, रावण दहन आज

नवरात्रि के दौरान हजारों भक्तों ने ग्रहण किया प्रसाद, रावण दहन आज

सुप्रसिद्ध आरोग्य तीर्थ स्थल श्री दूधाखेड़ी माताजी (पंचदेवी केसर माताजी) के दर्शनाें के लिए चैत्र नवरात्रि की...

Bhaskar News Network| Last Modified - Mar 26, 2018, 03:20 AM IST

नवरात्रि के दौरान हजारों भक्तों ने ग्रहण किया प्रसाद, रावण दहन आज
नवरात्रि के दौरान हजारों भक्तों ने ग्रहण किया प्रसाद, रावण दहन आज
सुप्रसिद्ध आरोग्य तीर्थ स्थल श्री दूधाखेड़ी माताजी (पंचदेवी केसर माताजी) के दर्शनाें के लिए चैत्र नवरात्रि की नवमी पर अंचल सहित देशभर से आए हजारों भक्त देरशाम तक दर्शन करने पहुंचे। दूधाखेड़ी माताजी सहित शामगढ़ में महिषासुर मर्दिनी मंदिर, बोलिया में कंकाली माताजी मंदिर सहित अंचल के अन्य देवी मंदिरों में सुबह से रात में पट बंद होने तक भक्तों का आना लगा रहा। इधर, सोमवार को गरोठ नगर में दशहरा पर्व उत्साह के साथ मनाया जाएगा। शाम को श्री लक्ष्मीनाथ मंदिर से श्रीरामजी की शोभायात्रा निकलेगी, जो दशहरा मैदान पहुंचेगी। जहां रात 8 बजे आतिशबाजी के साथ 41 फीट ऊंचे रावण के पुतले का दहन किया जाएगा।

तहसीलदार नारायण नांदेड़ के अनुसार शनिवार को सुबह से ही दूधाखेड़ी माता मंदिर में भक्तों का आना-जाना लगा था। रात में भी सैकड़ों भक्त रात्रि जागरण के लिए रुके थे। आस-पास सहित मंदसौर, नीमच, रतलाम, इंदौर, उज्जैन, भोपाल संभाग सहित राजस्थान, दिल्ली, महाराष्ट्र तक से बड़ी संख्या में भक्त आए। रविवार देरशाम 6 बजे तक करीब 55 हजार भक्त दर्शन कर चुके थे और आना जारी था। ग्राम पंचायत दूधाखेड़ी द्वारा नवरात्रि में आठ दिनी मेले एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम के तहत रामलीला का मंचन करवाया गया। रविवार को भगवान मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम के अयोध्या वापसी एवं राज्याभिषेक के साथ रामलीला का समापन हुआ। रामलीला का संचालन पं. ब्रजेश शर्मा ने किया। इसके साथ दूधाखेड़ी माताजी मंदिर में नवरात्रि मेले का समापन भी हुआ। पहली बार नवरात्रि में मंदिर प्रबंधन समिति द्वारा भक्तों के लिए भंडारे की व्यवस्था की गई थी। 18 मार्च चैत्र प्रतिपदा से शुरू नवरात्रि के साथ 25 मार्च नवमी तक हजारों भक्तों ने भंडारे में प्रसाद ग्रहण किया। तहसीलदार नारायण नांदेड़ ने बताया भंडारा आज सोमवार को भी जारी रहेगा।

दोपहर में किया हवन, लोगों ने डाली आहुतियां

रविवार को प्रात: काल आरती मंदिर पुजारी आत्माराम योगी द्वारा करवाई गई। पश्चात दोपहर 12.30 बजे अभिजीत मुहूर्त में हजारों भक्तों की उपस्थिति में मंदिर परिसर मे माताजी के सम्मुख पं. कैलाशचंद्र शर्मा “गुराड़िया नरसिंह’ के आचार्यत्व में हवन हुआ। मंदिर समिति सदस्य व भानपुरा तहसीलदार नारायण नांदेडा, सरपंच किशोर पाटीदार व मंदिर पुजारी रतननाथ शास्त्री, केसरनाथ, लक्ष्मीनारायण योगी, घनश्याम नाथ, गोरखनाथ, गोवर्धन नाथ, बाबूनाथ द्वारा माताजी की पूजा-अर्चना कर यज्ञ कुंड में मंत्रोच्चार के बीच आहुतियां डालीं।

गरोठ में दशहरे पर लगेगा मेला, होगा रावण दहन

गरोठ में सोमवार को दशहरा मनाया जाएगा। दशहरा मैदान पर शाम से मेला लगेगा जो रावण दहन तक जारी रहेगा। समिति अध्यक्ष जगदीश अग्रवाल ने बताया सोमवार शाम 7.30 बजे सदर बाजार स्थित भगवान श्री लक्ष्मीकांत के मंदिर से भगवान का रथ एवं भगवान श्री राम-सीता व लक्ष्मण सहित हनुमानजी की शोभायात्रा बैड़बाजों के साथ निकलेगी, जो नगर के प्रमुख मार्ग में होकर दशहरा मैदान पर पहुंचेगी। रात 8 बजे से दशहरा मैदान पर शानदार आतिशबाजी के साथ दशहरा पर्व की शुरुआत होगी। शोभायात्रा के दशहरा मैदान पहुंचने पर अतिथि विधायक चंदरसिंह सिसौदिया, एएसपी इंद्रजीत बाकरवाल, एसडीएम आरपी वर्मा, गरोठ नगर परिषद अध्यक्ष अनोख पाटीदार सहित आयोजन समिति के पदाधिकारी भगवान पूजनकर आरती करेंगे। पश्चात रावण दहन होगा।

prev
next
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now