गरोठ

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Garoth
  • 2 करोड़ की लागत से 30 साल की पानी की समस्या होगी दूर, चार महीने में पूरा होगा प्रोजेक्ट
--Advertisement--

2 करोड़ की लागत से 30 साल की पानी की समस्या होगी दूर, चार महीने में पूरा होगा प्रोजेक्ट

नगर की जनता को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए मुख्यमंत्री पेयजल आवर्धन योजना पर तेजी से कार्य चल रहा है। 1 करोड़ 92...

Dainik Bhaskar

Mar 12, 2018, 03:50 AM IST
2 करोड़ की लागत से 30 साल की पानी की समस्या होगी दूर, चार महीने में पूरा होगा प्रोजेक्ट
नगर की जनता को शुद्ध पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए मुख्यमंत्री पेयजल आवर्धन योजना पर तेजी से कार्य चल रहा है। 1 करोड़ 92 लाख रुपए की लागत से नगर में वाटर डिस्ट्रीब्यूशन पाइप लाइन, वाटर ट्रीटमेंट (फिल्टर) प्लांट, पानी की नई टंकी सहित अन्य काम हो रहे हैं। सब ठीक रहा तो अगले 3 महीने में नगर को भरपूर पानी मिलने के साथ अगले 30 साल तक पानी की समस्या दूर हो जाएगी।

मुख्यमंत्री आवर्धन योजना के तहत नगर में घर-घर पानी पहुंचाने के लिए के लिए 23 किमी लंबी वाटर डिस्ट्रीब्यूशन पाइप लाइन बिछाने का कार्य करीब 90 फीसदी पूरा हो चुका है। नगर में बिछी 30 साल पुरानी पाइप लाइन कई जगह से जर्जर हो चुकी है। आबादी और शहर बढ़ने के साथ ही कई क्षेत्रों में पाइप लाइन भी नहीं बिछी थी। इससे जहां पाइप लाइन जर्जर हुई वहां और छूटे क्षेत्रों में नई लाइन बिछाने का कार्य चल रहा है। योजना के तहत छत्री रोड स्थित पुराने फिल्टर प्लांट के समीप ही नया वाटर ट्रीटमेंट प्लांट का निर्माण प्रगति पर है और 65 फीसदी तक हो चुका हैं। इंद्रगढ़ जलाशय से प्लांट तक पानी लाने के लिए करीब 3 किमी लंबी रा-वाटर पाइप लाइन बिछाई जा चुकी है। गरोठ रोड पर पानी सप्लाई के लिए करीब 5 लाख लीटर क्षमता की पानी (आेवरहेड) टंकी का निर्माण भी अंतिम चरण में है। नगर परिषद की मानें कार्य 3 महीने में पूरे हो जाएंगे। इसके बाद लोगों को ज्यादा समय पानी मिलने सकेगा।

छत्री रोड स्थित पुराने वाटर ट्रीटमेंट (फिल्टर) प्लांट के समीप निर्माणाधीन प्लांट।

दो टाइम मिल सकता पानी

नगर परिषद वर्तमान में नगर में प्रतिदिन एक टाइम 30 से 35 मिनट पानी सप्लाई करती है। योजना पूरी होने पर वितरण का समय बढ़ सकेगा, दो बार सप्लाई भी हो सकती है। इस पर अंतिम निर्णय बाद में होगा।

जल्द कार्य पूर्ण होगा


वर्तमान में यह है व्यवस्था

नगर में पेयजल का मुख्य स्रोत इंद्रगढ़ जलाशय है। यहां से पुरानी लाइन से पुराने फिल्टर प्लांट पर पानी पहुंचता है। नगर की आबादी करीब 25 हजार है और 3100 नल कनेक्शन हैं। इससे वर्तमान फिल्टर प्लांट व अन्य स्रोत से नगर में 30 लाख लीटर पानी प्रतिदिन अलग-अलग जोन से 30 से 35 मिनट तक सप्लाई होता है।

ये कार्य हो रहे हैं

नई योजना के तहत इंद्रगढ़ जलाशय से ही नगर में पानी लाया जाएगा। इसके तहत जलाशय पर नया इंटकवेल, छत्री रोड स्थित पुराने प्लांट के समीप नया वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, गरोठ रोड पर पानी की टंकी का निर्माण कार्य हो रहा है। जलाशय से वाटर ट्रीटमेंट प्लांट तक 3 किमी लंबी रा-वाटर पाइप लाइन, प्लांट से पानी टंकी तक 5 किमी लंबी क्लियर वाटर व घर-घर पानी पहुंचाने के लिए नगर के विभिन्न क्षेत्राें में 23 किमी लंबी डिस्ट्रीब्यूशन पाइप लाइन बिछाई जा रही है। तीन प्रकार की पाइप लाइन बिछाने की बात करें तो करीब 85 फीसदी कार्य हो चुका है। इन्हें ज्वाइंट करना बाकी है।

X
2 करोड़ की लागत से 30 साल की पानी की समस्या होगी दूर, चार महीने में पूरा होगा प्रोजेक्ट
Click to listen..