गरोठ

  • Home
  • Madhya Pradesh News
  • Garoth
  • गरोठ जनपद अध्यक्ष के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा का केस
--Advertisement--

गरोठ जनपद अध्यक्ष के खिलाफ शासकीय कार्य में बाधा का केस

गरोठ जनपद अध्यक्ष भगवानसिंह चंद्रावत के खिलाफ पुलिस थाना गरोठ ने शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने और कर्मचारी को...

Danik Bhaskar

Feb 03, 2018, 05:05 AM IST
गरोठ जनपद अध्यक्ष भगवानसिंह चंद्रावत के खिलाफ पुलिस थाना गरोठ ने शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने और कर्मचारी को जान से मारने की धमकी देने का केस दर्ज किया। जनपद अध्यक्ष चंद्रावत के खिलाफ समीपस्थ बरखेड़ा गंगासा बिजली वितरण केंद्र पर पदस्थ कर्मचारी धनीराम कुशरे को माेबाइल पर गाली-गलौच करने और घर बुलाकर मारपीट करने का अारोप है। इसे लेकर बिजली कंपनी के अधिकारियों और कर्मचारियों ने 31 जनवरी को पुलिस थाना गरोठ पहुंचकर लिखित आवेदन देते हुए शासकीय कार्य में बाधा का भी आरोप लगाया और कार्रवाई करने की मांग की थी।

बरखेड़ा गंगासा विद्युत वितरण केंद्र के एफओसी पर लाइन परिचायक (संविदा) धनीराम पिता चैनसिंह कुशरे अौर जनपद अध्यक्ष भगवानसिंह चंद्रावत के बीच हुए विवाद को लेकर पुलिस कार्रवाई में देरी को लेकर बिजली कर्मचारियों में नाराजगी थी। इसे लेकर शुक्रवार दोपहर में कर्मचारियों के साथ एसडीएम कार्यालय पहुंचकर फरियादी धनीराम ने जनपद अध्यक्ष चंद्रावत के खिलाफ प्रकरण दर्ज करने के लिए तहसीलदार अजय पाठक को एसडीएम के नाम ज्ञापन सौंपा था। इस बीच ही पुलिस थाना गरोठ द्वारा प्रकरण दर्ज करने की कार्रवाई की खबर भी आ रही थी। पुलिस थाना गरोठ ने जनपद अध्यक्ष के खिलाफ रास्ता रोककर जान से मारने की धमकी देना और शासकीय कार्य में बांधा का प्रकरण दर्ज किया है। इसे लेकर जब जनपद अध्यक्ष भगवानसिंह चंद्रावत से उनका पक्ष जानने के लिए चर्चा करना चाही तो संपर्क नहीं हो पाया, मोबाइल पर भी संपर्क नहीं हुआ।

थाना प्रभारी प्रतीक राय ने बताया धनीराम कुशरे के आवेदन और बयान लिए। इसके आधार पर भगवानसिंह चंद्रावत के खिलाफ धारा 353, 341 व 506 आईपीसी के तहत प्रकरण दर्जकर विवेचना में लिया।

Click to listen..