Hindi News »Madhya Pradesh »Garoth» गैंगस्टर का आपराधिक रिकाॅर्ड तलाशने में जुटी जीआरपी व गरोठ पुलिस, किशन से पूछताछ जारी

गैंगस्टर का आपराधिक रिकाॅर्ड तलाशने में जुटी जीआरपी व गरोठ पुलिस, किशन से पूछताछ जारी

गरोठ स्टेशन से ढाई किमी दूर पटरी किनारे मिली मृत महिला संगीता अग्रवाल उत्तरप्रदेश की गैंगस्टर और ट्रेनाें में...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 05:15 AM IST

गरोठ स्टेशन से ढाई किमी दूर पटरी किनारे मिली मृत महिला संगीता अग्रवाल उत्तरप्रदेश की गैंगस्टर और ट्रेनाें में अपराध करने वाली निकली। उसका पुत्र किशन भी गैंगस्टर है। ऐसे में पुलिस की जांच की दिशा ही पलट गई। शुक्रवार को खुलासा करने के बाद पुलिस अब किशन से पूछताछ करने के साथ पुराने रिकाॅर्ड खंगालने व साथियों की जानकारी जुटाने में लग गई है। पुलिस ने मृत महिला व उसके पुत्र किशन की जानकारी देशभर के जीआरपी, आरपीएफ व अन्य एजेंसियों तक पहुंचाएं हैं। रेलवे पुलिस व गरोठ पुलिस को बड़े गिरोह का अंदेशा हैं।

दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग पर गरोठ-शामगढ़ रेलवे स्टेशन के बीच 27 मार्च को एक महिला की लाश मिलने के बाद पुलिस मर्ग कायमी कर जांच में जुटी थी। जिस प्रीमियम राजधानी ट्रेन से महिला गिरी थी, उसी ट्रेन में एक महिला यात्री का पर्स चोरी होने के बाद जीआरपी व गरोठ पुलिस ने दोनों घटनाओं को जोड़कर जांच शुुरू की थी। चौंकाने वाली जानकारी मिली और मृत महिला की पहचान संगीता पिता छोटेलाल अग्रवाल (47) निवासी कटुआपुरा, मऊनाथ भंजन जिला मऊ (उत्तरप्रदेश) के रूप हुई। महिला के पास से जो पहचान पत्र मिले उस आधार पर उसके पिता छोटेलाल व पुत्र किशन पिता संदीप अग्रवाल(28) को सूचित कर विश्वास में लेकर गरोठ बुलवाया। दोनों 29 मार्च का गरोठ आए और किशन ने मृत महिला की पहचान मां के रूप में करने के बाद अंतिम संस्कार भी गरोठ में किया। उसके बाद से ही पुलिस ने किशन से पूछताछ शुरू कर दी। शुक्रवार को पुलिस ने मृत महिला व किशन के बारे में खुलासा करते हुए बताया कि दोनों उत्तर प्रदेश में गैंगस्टर एक्ट में बंद हो चुके हैं और ट्रेनों में हाेने वाले अपराधों में भी सक्रिय हैं। जांच के लिए रेलवे पुलिस इंदौर रेंज के एएसपी मनकामना प्रसाद शुक्रवार से ही गरोठ में थे। गरोठ एएसपी डॉ. इंद्रजीत बाकरवाल के साथ मिलकर किशन अग्रवाल से शनिवार दोपहर तक पूछताछ की। उसके बाद रेलवे पुलिस एएसपी प्रसाद इंदौर चले गए। इस बारे में रेलवे एएसपी प्रसाद ने बताया कि पूछताछ जारी हैं, आपराधिक रिकाॅर्ड निकालने के लिए देशभर में रेलवे पुलिस को दाेनों के फोटो व अन्य जानकारी भेजकर उनके वहां दर्ज रिकाॅर्ड मंगवाया जा रहा है। गरोठ एएसपी डॉ. बाकरवाल ने बताया किशन से पूछताछ में कई कड़ियां मिली हैं, लेकिन वह शातिर है। ऐसे में घुमा फिराकर बता रहा हैं। जो जानकारी मिली है, उसके आधार पर रेलवे पुलिस के साथ हम भी अपने स्तर पर जानकारी जुटा रहे हैं। प्रदेश सहित अन्य राज्यों की पुलिस को दोनों के फोटो और जानकारी भेजी हैं। 2-3 दिन में खुलासा हो जाएगा।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Garoth

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×