गरोठ

--Advertisement--

70% बनी सड़क, गराेठ-शामगढ़ के बीच आठ किमी दूरी होगी कम

गरोठ से शामगढ़ जाने के लिए आकली शिवदास व नारिया होकर नई डामरीकृत सड़क का निर्माण अंतिम चरण में है। 70 फीसदी मार्ग पर...

Dainik Bhaskar

Apr 01, 2018, 05:15 AM IST
70% बनी सड़क, गराेठ-शामगढ़ के बीच आठ किमी दूरी होगी कम
गरोठ से शामगढ़ जाने के लिए आकली शिवदास व नारिया होकर नई डामरीकृत सड़क का निर्माण अंतिम चरण में है। 70 फीसदी मार्ग पर डामरीकरण हो चुका है जबकि बाकी डामरीकरण और बड़ी पुलिया का निर्माण प्रगति पर है। यह मार्ग पूरी तरह यातायात के लिए चालू होने के बाद गरोठ से शामगढ़ की दूरी करीब 8 किमी कम हाे जाएगी। अप्रैल में कार्य पूर्ण होकर पूरी तरह से यातायात के लिए सुविधाजनक हो जाएगा।

गरोठ से शामगढ़ की दूरी 25 किमी होने के साथ ही स्टेट हाईवे होने से हर वक्त भारी यातायात रहता है। ऐसे में दोपहिया और हल्के चार पहिया वाहन चालकों के लिए हर दम दुर्घटना का भय रहता है। यही नहीं गरोठ से मेलखेड़ा होकर शामगढ़ जाना पड़ता है। यह पूरा मार्ग ही स्टेट हाईवे में आता हैं। भारी यातायात से बचने के लिए विशेषकर दोपहिया वाहन ग्रामीण क्षेत्रों के कच्चे रास्ते से होकर शामगढ़ आवागमन करते हैं। अब आकली शिवदास व नारिया हाेकर जाने वाला मार्ग पक्का हो रहा है। ग्रामीण क्षेत्र की सड़कें पहले ही प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत बनकर पक्की हो चुकी हैं। अब पीडब्ल्यूडी द्वारा करीब 3 किमी के हिस्से का निर्माण भी करवाया जा रहा है। हालांकि यह सड़क चार महीने पहले ही बनना थी लेकिन तकनीकी और अन्य कारणों से लंबे समय से निर्माण रुका था। इस महीने कार्य ने गति पकड़ी और करीब 70 फीसदी सड़क के हिस्से पर डामरीकरण हो चुका है। बाकी भी जल्द पूर्ण हो जाएगा। आकली शिवदास में प्रवेश करने वाले मार्ग पर ग्रामीण नदी होने के कारण बड़ी पुलिया का निर्माण किया जा रहा है ताकि बारिश में रास्ता बंद न हो। अब तक जरा-सी बारिश हाेने पर मार्ग बंद हो जाता था। अब नई सड़क निर्माण के साथ ही पुलिया का निर्माण अंतिम चरणों में है। इस मार्ग के पूर्ण होने से आकली शिवदास व नारिया तो सीधे सड़क से जुड़ेंगे आस-पास के 15 से ज्यादा गांव भी मुख्य सड़क से जुड़ जाएंगे। यह मार्ग निर्माण होने से ग्रामीणों के साथ सबसे ज्यादा सुविधा गरोठ व शामगढ़ के बीच आवागमन करने वालों को होगी।

आकली शिवदास होकर शामगढ़ मार्ग का 70 फीसदी हिस्से पर डामरीकरण हो गया है।

राह आसान, सुरक्षित होगा सफर

अब तक गरोठ से शामगढ़ के बीच सफर तय करने के लिए मेलखेड़ा होकर आना-जाना पड़ता है जो करीब 25 किमी लंबा रास्ता है। साथ ही इस मार्ग पर 24 घंटे भारी यातायात रहता है। छोटे वाहन से लेकर ट्राॅले, सीमेंट के भारी वाहन सहित अन्य वाहनों का आवागमन लगा रहता है। ऐसे में सफर में दुर्घटना का भय भी रहता है। अब नया मार्ग आकली शिवदास व नारिया होकर जाने वाली सड़क बनने से करीब 8 किमी की दूरी कम होकर 17 किमी दूरी तय करना पड़ेगी। दूरी कम होने के साथ सुरक्षित सफर भी।

जल्द ही पूर्ण होगा कार्य


X
70% बनी सड़क, गराेठ-शामगढ़ के बीच आठ किमी दूरी होगी कम
Click to listen..