Hindi News »Madhya Pradesh »Garoth» नाली, सड़क तो कहीं स्ट्रीट लाइट तक नहीं, आश्वासन ही मिल रहे

नाली, सड़क तो कहीं स्ट्रीट लाइट तक नहीं, आश्वासन ही मिल रहे

नगर की कॉलोनियों और पुरानी बस्तियों में नाली, सड़क और स्ट्रीट लाइट नहीं हैं। स्थानीय अधिकारी से सीएम हेल्प लाइन तक...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 14, 2018, 06:15 AM IST

नगर की कॉलोनियों और पुरानी बस्तियों में नाली, सड़क और स्ट्रीट लाइट नहीं हैं। स्थानीय अधिकारी से सीएम हेल्प लाइन तक शिकायत हो चुकी हैं। रहवासियों का कहना है जब भी आवेदन दो आश्वासन दे देते हैं। ठोस कदम कुछ नहीं उठाते। कलेक्टर से शिकायत करेंगे, फिर भी निदान नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा। विद्यानगर, प्रज्ञा नगर, बंजारी रोड स्थित अन्य कॉलोनियों और रहवासी बस्ती के साथ खड़ावदा रोड़ बस्ती में न सड़क है और नालियां हैं।

नगर परिषद सीएमओ बनेसिंह सोलंकी ने बताया कॉलोनियों में सड़क, नाली निर्माण जैसे कई प्रस्ताव पास होकर एस्टीमेट बन चुका है। कुछ टेंडर प्रक्रिया में है। टेंडर पास होते ही कार्रवाई शुरू करवाएंगे। साफ-सफाई रोज होती है, फिर भी कहीं परेशानी है मुझे बताए। कार्य करवाएं जाएंगे।

प्रज्ञा नगर-नगर परिषद को नागरिक टैक्स देते हैं पर सुविधा कुछ नहीं मिल रही

प्रज्ञा नगर में प्लाटों में गंदगी रहती हैं।

कॉलोनी में 150 मकान और इतने ही प्लाॅट हैं। रहवासी प्रतापलाल गेहलोद ने बताया परिषद टैक्स वसूल रही हैं। सड़क और नाली की सुविधा नहीं हैं। स्ट्रीट लाइट किसी खंभे पर लगी है तो किसी पर नहीं हैं।

कन्या छात्रावास व स्कूल फिर भी सड़क- नाली नहीं

रहवासी श्रीकांत यादव कॉलोनी में आने के लिए बंजारी रोड़ की हालात खराब है। इस पर शासकीय कन्या छात्रावास सहित शासकीय कन्या व बालक स्कूल है। इसके बावजूद सड़क और नाली तक बनी है।

विद्या नगर : अब तो सड़क पर उतरना पड़ेगा

कॉलोनी के रहवासी किशोर सोनी ने बताया स्ट्रीट लाइट के लिए परिषद ने दो साल से खंभे लगा रखे हैं, लेकिन लाइट नहीं लगाई। हमें सड़कों पर उतर कर आंदोलन करना पड़ेगा, तभी सुनवाई होगी।

खड़ावदा रोड: मुख्य मार्ग पर खुला हुआ है नाला

खड़ावदा रोड के मुख्य मार्ग पर कहीं नाला बना है तो कहीं जमीन खोद दी। रहवासी नंदकिशोर र|ावत, कृष्णगोपाल दानगढ़, नफीस कुरैशी ने बताया गंदगी के साथ बच्चों के गिरने का डर रहता है।

शामगढ़ रोड़ :नाले के पानी की निकासी नहीं

रोड़ से पुरानी मंडी के पास रहवासी बस्ती में नालियों को जोड़ने वाले नाले में निकासी नहीं है। रहवासी ओमप्रकाश पाटीदार, सुरेश पाटीदार ने बताया सुअर बैठे रहने और गंदगी से मच्छरों को प्रकोप रहता है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Garoth

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×