Hindi News »Madhya Pradesh »Garoth» सुवासरा से लेकर भानपुरा तक हजारों रुपए खर्च करने के बाद भी नहीं मिल रही है फ्री वाई-फाई जोन की सुविधा

सुवासरा से लेकर भानपुरा तक हजारों रुपए खर्च करने के बाद भी नहीं मिल रही है फ्री वाई-फाई जोन की सुविधा

नगरीय क्षेत्रों में लोगों को फ्री वाई-फाई कनेक्टिविटी देने के लिए गरोठ सहित सुवासरा, शामगढ़ व भानपुरा में एक-एक जोन...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 15, 2018, 06:20 AM IST

नगरीय क्षेत्रों में लोगों को फ्री वाई-फाई कनेक्टिविटी देने के लिए गरोठ सहित सुवासरा, शामगढ़ व भानपुरा में एक-एक जोन बनाए थे। चारों नगर परिषद ने करीब डेढ़ लाख रुपए खर्च किए। प्रचार-प्रसार के साथ फ्री फाई-वाई सुविधा देना शुरू की। कुछ दिनों में सुविधा के नाम पर केवल वाई-वाई कनेक्ट होता, लेकिन लाभ नहीं मिलता हैं। परिषदों ने प्लान कमजोर ले रखे थे, ऐसे में सुविधा शुरू करने पर सवाल उठने लगे। परिषदों में वाई-फाई जोन बंद हुए डेढ़ साल तो कही सात माह हो चुके हैं। जिम्मेदार सुविधा शुरू करने में खर्च ज्यादा आने की बात कर रहे हैं।

नगरीय क्षेत्रों में लोगों को फ्री इंटरनेट सुविधा मुहैया करवाने के अपने वादे पर अमल करने के लिए नगरीय निकाय चुनाव के बाद प्रदेश में फ्री वाईफाई जोन विकसित करने की प्रक्रिया शुरू हुई। इसके तहत नगर परिषद गरोठ सहित सुवासरा, शामगढ़ व भानपुरा नगर परिषदों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में एक-एक क्षेत्र को फ्री वाई-फाई जोन बनाने के लिए 2015 में प्रक्रिया शुरू की। 2016 तक चारों नगर परिषद ने 1 लाख 50 हजार रुपए खर्च कर वाई-वाई जोन शुरू किए। नगर परिषद गरोठ को छोड़कर किसी ने बड़ा प्लान नहीं लिया। ऐसे में फ्री वाई-फाई सुविधा होने के बाद इंटरनेट यूजर मोबाइल धारकों को न सही कनेक्टिविटी मिल पाई और नहीं डाउनलोडिंग। हालात यह थे कि कनेक्ट होने के बाद ब्राउजिंग तक नहीं होती थी। शिकायतों के बाद भी बड़ा प्लान नहीं लिया और नहीं सुविधाओं में विस्तार किया। हालात यह हो गए कि फ्री फाई-फाई जोन नाम के रह गए और एक-एक चारों जगह फ्री वाई-फाई की सुविधा बंद हो गई। उसके बाद किसी भी नगर परिषद ने फ्री वाई-फाई सुविधा शुरू नहीं की। जब भी किसी ने सुविधा शुरू करने की बात कहीं तो कभी तकनीकी तो कभी आर्थिक कारण बता कर सुविधा शुरू नहीं की गई।

यह थे फ्री वाई-फाई जाेन और करीब डेढ़ साल से बंद हैं

नया बस स्टैंड परिसर भवन गरोठ की छत पर लगा वाई-फाई टॉवर।

शामगढ़ : नगर परिषद द्वारा करीब 20 हजार रुपए खर्च कर नगर परिषद भवन शिव-हनुमान मंदिर चौराहे को इंटरनेट सुविधा देते हुए फ्री वाई-फाई जोन बनाया था। ढ़ाई साल में मुश्किल से सालभर चला और अक्सर बंद रहा, वर्तमान में सवा साल से बंद पड़ा है।

जिम्मेदार बाेले : शामगढ़ नगर परिषद अध्यक्ष अर्जुन सोनी ने बताया खर्च ज्यादा हाेने से सुविधा बंद की गई थी, जल्द ही अन्य निजी नेट कंपनी से बात कर सुविधा शुरु करेंगे।

सुवासरा : नगर परिषद द्वारा करीब 32 हजार रुपए खर्च कर पुराना बस स्टैंड चौराहा को इंटरनेट सुविधा देते हुए फ्री वाई-फाई जोन बनाया था। करीब दो साल में मुश्किल से सालभर चला और अक्सर बंद रहा, वर्तमान में भी महीने से बंद पड़ा है।

जिम्मेदार बोले : सुवासरा नगर परिषद अध्यक्ष मगनलाल सूर्यवंशी ने बताया तकनीकी गड़बड़ी के चलते बंद हुआ था। खर्च ज्यादा बताया था, इसलिए बंद पड़ा है। नई नेट कंपनी से चर्चा कर सुविधा देंगे।

भानपुरा : नगर परिषद द्वारा 21 हजार रुपए खर्च कर नगर पंचायत भवन पुराना बस स्टैंड क्षेत्र में इंटरनेट सुविधा देते हुए फ्री वाई-फाई जोन बनाया था। दो साल में मुश्किल से 11 महीने चला और अक्सर बंद रहा, वर्तमान में भी बंद पड़ा है।

जिम्मेदार बोले : भानपुरा नगर परिषद सीएमओ शंभुलाल शर्मा ने बताया कि कब से बंद है इसकी जानकारी नहीं हैं, लेकिन सुविधा को फिर से शुरू करने के प्रयास किए जाएगे। परिषद की बैठक में प्रस्ताव रखेंगे।

गरोठ | नगर परिषद द्वारा करीब 70 हजार रुपए खर्च कर नया बस स्टैंड को इंटरनेट सुविधा देते हुए फ्री वाई-फाई जोन बनाया था। ढ़ाई साल में मुश्किल से 15 माह चला और अक्सर बंद रहा, वर्तमान में सात माह से बंद पड़ा है।

जिम्मेदार बोले : गरोठ नगर परिषद सीएमओ बनेसिंह सोलंकी ने बताया कि तकनीकी गड़बड़ी के कारण बंद है, जल्द सुविधा फिर से शुरू होगी। प्रक्रिया चल रही हैं।

गरोठ

लागत : 70 हजार रुपए

यहां लगा : नया बस स्टैंड परिसर

कब लगा : 2016

वर्तमान स्थित : 7 महीने से बंद पड़ा।

सुवासरा

लागत : 32 हजार रुपए

यहां लगा : पुराना बस स्टैंड चौराहा

कब लगा : 2016

वर्तमान स्थित : 9 महीने से बंद पड़ा।

शामगढ़

लागत : 20हजार रुपए

यहां लगा : कार्यालय परिसर शिव-हनुमान मंदिर चौराहा

कब लगा : 2016

वर्तमान स्थित : डेढ़ साल से बंद पड़ा।

भानपुरा

लागत : 21 हजार रुपए

यहां लगा : नपं भवन पुराना बस स्टैंड

कब लगा : 2016 में, डेढ़ साल से बंद

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Garoth

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×