• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Garoth
  • झोलाछाप डॉक्टर के साथ गलत पद्धति से इलाज पर होगी कार्रवाई
--Advertisement--

झोलाछाप डॉक्टर के साथ गलत पद्धति से इलाज पर होगी कार्रवाई

कोठारीनगर में फर्जी नशामुक्ति केंद्र का मामला सामने आने के बाद अब प्रशासन सख्त हुआ है। कलेक्टर ओमप्रकाश...

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2018, 02:40 PM IST
कोठारीनगर में फर्जी नशामुक्ति केंद्र का मामला सामने आने के बाद अब प्रशासन सख्त हुआ है। कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव ने ब्लाॅक स्तरों पर टीमें बनाई हैं, जो फर्जी व अमान्य ढंग से इलाज करने वालों पर कार्रवाई करेगी।

प्रदेश शासन लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग मंत्रालय के निर्देशों के तहत कलेक्टर ने बताया फर्जी चिकित्सकों, झोलाछाप, अन्य प्रदेश में रजिस्टर्ड लेकिन मप्र में अमान्य पद्धतियों से रोगियों का उपचार करने वालों की पहचान कर प्रावधानों के तहत कार्रवाई होगी। अपात्रजन द्वारा किए जा रहे व्यवसाय पर अंकुश लगाने के लिए दल बनाया है। इसमें मंदसौर ब्लाॅक स्तर पर एसडीएम एस.एल. शाक्य, सीएसपी राकेशमोहन शुक्ल, बीएमओ एस.के. गौड़ शामिल हैं। इसी तरह मल्हारगढ़, सीतामऊ, गरोठ व भानपुरा ब्लाॅक में यही जिम्मेदारी एसडीएम, एसडीओपी व बीएमओ रैंक के अधिकारी देखेंगे। इधर फर्जी नशामुक्ति केंद्र की जांच सिटी कोतवाली में अंतिम चरण में है। स्थानीय अधिकारी दिनभर सुरक्षा व्यवस्था के लिए पिपलिया, मल्हारगढ़ में एकात्म यात्रा की व्यवस्था में रहे थे। सिटी कोतवाली टीआई विनोद कुशवाह ने बताया कोठारीनगर नशामुक्ति केंद्र मामले में जांच लगभग हो चुकी है, जल्द एक्शन लेने जा रहे हैं।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..