• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Garoth
  • 50 फीट चौड़े सिटी फोरलेन पर अतिक्रमण होने से सिंगल वाहन निकलने में आती परेशानी, होते हादसे
--Advertisement--

50 फीट चौड़े सिटी फोरलेन पर अतिक्रमण होने से सिंगल वाहन निकलने में आती परेशानी, होते हादसे

शहर से होकर निकलने वाला फोरलेन मुख्य मार्ग 50 फीट चौड़ा होने के बावजूद यहां सिंगल वाहन को निकलने में परेशानी होती है।...

Dainik Bhaskar

Jan 12, 2018, 02:40 PM IST
शहर से होकर निकलने वाला फोरलेन मुख्य मार्ग 50 फीट चौड़ा होने के बावजूद यहां सिंगल वाहन को निकलने में परेशानी होती है। सुबह से लेकर रात तक मार्ग के दोनों तरफ एक-एक लेन पर हल्के लोडिंग फोर व्हीलर वाहनों से लेकर भारी वाहन खड़े रहते हैं। मुख्य मार्ग होने के कारण आए दिन हादसे और विवाद होने का अंदेशा रहता है। पुलिस से लेकर प्रशासन तक शिकायत के बावजूद कुछ नहीं हुआ। हालात यह हैं कि भानपुरा रोड से शामगढ़ रोड और खड़ावदा रोड पर दोनों तरफ हर प्रकार के वाहनों की कतार दिख जाएगी।

नए बस स्टैंड, पुराना बस स्टैंड, सब्जी मंडी से अस्पताल चौराहा और शामगढ़ नाका तक करीब 2 किमी लंबा सिटी फोरलेन है। कुछ हिस्से में दाेनों तरफ पाथवे भी हैं। भानपुरा-शामगढ़ रोड पर भारी यातायात होने के कारण यह सिटी फोरलेन तीन साल पहले बनाया था ताकि भारी वाहनों को निकलने से होने परेशानी और दुर्घटना का अंदेशा न बना रहे। इतना चौड़ा रोड होने के बावजूद हालात टू-लेन जैसे ही हैं। 80 फीसदी रोड पर हल्के लोडिंग वाहन से लेकर ट्रक और भारी वाहन तक कभी-भी खड़े देखे जा सकते हैं। कई स्थान पर दुकानदारों अौर सड़क पर ठेला व गुमटियों वालों ने कब्जा कर रखा है। ऐसे में फोरलेन मार्ग टू-लेन में तब्दील हो जाता है और लोगों के साथ राह से निकलने वाले टू-व्हीलर वाहन चालकों के साथ राहगीरों को परेशानी होती है। नगर की यातायात व्यवस्था को लेकर हालात यह हैं कि नगर परिषद को रसीद काटने से मतलब और पुलिस को अपने दूसरे कार्यों से फुर्सत नहीं। दुकानों और ठेलों व गुमटियों को अतिक्रमण होने के साथ हर कहीं वाहन बेतरतीब तरीके से खड़े हो जाते हैं। इसका खामियाजा निकलने वाले वाहन चालकों और राहगीरों को भुगतना पड़ता है। नगर में शामगढ़ रोड से भानपुरा रोड और खड़ावदा रोड पर यह हालात देखे जा सकते हैं। हालांकि खड़ावदा रोड टू-लेन बना है, लेकिन आस-पास चौड़ाई फोरलेन जैसी है। यह तीनों मार्ग नगर में अस्पताल चौराहा से हाेकर निकलते हैं। प्रमुख मार्ग होने से दिनभर शहर के यातायात के साथ तीनों तरफ से आने वाले यात्री वाहनों से लेकर हर प्रकार के हल्के व भारी वाहनों का आवागमन लगा रहता हैं। भानपुरा से शामगढ़ रोड पर तो 24 घंटे यातायात रहता हैं।

ट्रक तो मुझे मार देता- पोस्ट आॅफिस के समीप घोसी मोहल्ला निवासी रणजीतलाल ग्वाला ने बताया वे बुधवार रात को टहल रहे थे। तभी नए बस स्टैंड के समीप पोस्ट आॅफिस के सामने से सड़क किनारे खड़े 4-5 ट्रकों के पास से निकल रहे थे। भानपुरा की तरफ से तेज गति से ट्रक आ रहे थे, पैदल होने के कारण ज्यादा दूर भाग नहीं पाए और रोड़ पर खड़े ट्रक से चिपककर खड़ा होना पड़ा। यदि चिपककर खड़े नहीं होते तो कुछ भी हो सकता था। यह हालात इसलिए बने कि सड़क पर हर समय ट्रक सहित अन्य भारी वाहन खड़े रहते हैं और दोपहिया वाहन चालक तो छोड़िए हम जैसे पैदल चलने वाले भी सही तरीके से चल नहीं पाते हैं।

अस्पताल चौराहा से शामगढ़ रोड पर शासकीय कन्या हायर सेकंडरी स्कूल परिसर के सामने मुख्य रोड पर इस प्रकार हर तरह के वाहन फोरलेन की दोनों तरफ लेन को घेरकर खड़े रहते हैं। चित्र में स्पष्ट दिख रहा है किस प्रकार बस निकल रही है और साइड में लोडिंग वाहनों की कतार लगी है।

शिकायत के बाद भी कार्रवाई


कार्रवाई तो करते हैं


नप के साथ कार्रवाई करेंगे


ट्रैक्टर-ट्राॅली की टक्कर से युवक की मौत

शामगढ़ नाका के समीप बाेलिया रोड पर बोथरा की कुइया के पास ट्रैक्टर-ट्राॅली की टक्कर से एक युवक की मौत हो गई। टीआई प्रतीक राय ने बताया मृतक पप्पू ग्वाला (37) निवासी मोबाइल मार्केट नए बस स्टैंड के पीछे गरोठ को ट्रैक्टर-ट्राॅली चालक ने टक्कर मार दी। उसकी मौत हो गई। घटना गुरुवार रात 7.20 बजे की है, जब पप्पू हाथठेला लेकर शामगढ़ नाका आ रहा था तभी पीछे से आ रहे ट्रैक्टर-ट्राॅली चालक ने चपेट में ले लिया। सिर में गंभीर चोट आने से मौत हो गई। ट्रैक्टर चालक फरार हो गया। पुलिस थाना गरोठ ने ट्रैक्टर-ट्राॅली जब्त कर अज्ञात चालक के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर विवेचना में लिया।

पांच दिन पहले हुआ था हादसा- शामगढ़ नाका सिटी फोरलेन पर 5 जनवरी को में भी ट्राॅली चालक ने बाइक चालक को टक्कर मार दी थी। इससे बाइक चालक चंदरलाल सुतार (60) गरोठ का हाथ फ्रैक्चर और रीढ़ टूट गई थी।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..