Hindi News »Madhya Pradesh »Garoth» गांधीसागर की दलित महिला सरपंच को जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने पर प्रकरण दर्ज

गांधीसागर की दलित महिला सरपंच को जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने पर प्रकरण दर्ज

गांधी सागर की दलित महिला सरपंच के साथ अभद्रता और जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने के मामले में पुलिस ने दो लोगों के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Jan 24, 2018, 06:55 PM IST

गांधी सागर की दलित महिला सरपंच के साथ अभद्रता और जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने के मामले में पुलिस ने दो लोगों के खिलाफ कायमी की है। गांधीसागर के पूर्व सरपंच व कांग्रेस नेता राजेंद्र जैन और वर्तमान पंच कृष्णपद सरकार के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया है।

गांधी सागर पुलिस थाना और फिर एसपी मंदसौर अौर अजाक थाना मंदसौर में गांधीसागर सरपंच कविता मेघवाल ने पंच कृष्णपद सरकार व पूर्व सरपंच राजेंद्र जैन पर गंभीर आरोप लगाते हुए लिखित शिकायत की थी। सरपंच कविता मेघवाल की शिकायत पर गांधी सागर पुलिस व एसडीओपी बीएस सिसौदिया ने जांच पश्चात प्रकरण दर्ज किया है। शिकायत में फरियादी कविता मेघवाल ने आरोप लगाया था कि गांधी सागर पंचायत के पंच कृष्णपद सरकार कांग्रेस समर्थित हाेकर आए दिन पंचायत के कार्यों में व्यवधान पहुंचाते हैं और पूर्व सरपंच राजेंद्र जैन के इशारों पर आए दिन गाली-गलौज और जाति सूचक शब्दों से अपमानित करते रहे हैं। 17 जनवरी को गांधी सागर पंचायत कार्यालय जा रही थी सुबह 10.45 बजे पंच कृष्णपद सरकार व राजेंद्र जैन ने गाली-गलौज कर जाति सूचक शब्दों से अपमानित किया। 18 जनवरी की शाम 7 बजे फिर पंच कृष्णपद ने मेरे पिता पूरालाल मेघवाल के साथ बस स्टैंड पर गाली-गलौज कर झगड़ा किया। पहुंची तो मेरे व परिवार के साथ भी कृष्णपद धक्का-मुक्की करने लगा और जाति सूचक शब्दों से अपमानित करने लगा। पुलिस थाना गांधी सागर के टीआई वायआर सेन ने बताया गरोठ एसडीएमओ बीएस सिसौदिया द्वारा जांच पश्चात कायमी की हैं। प्रकरण में फरियादी कविता मेघवाल के आवेदन पर जांच पश्चात आरोपी राजेंद्र जैन और कृष्णपद सरकार के खिलाफ आईपीसी और एससी/एसटी एक्ट में प्रकरण दर्ज किया।

मुझे फंसाया जा रहा है

गांधी सागर के पूर्व सरपंच राजेंद्र जैन का कहना है राजनीतिक और अन्य कारणों के कारण मुझे इस प्रकरण में फंसाया जा रहा हैं। प्रकरण में जिस दिन का उल्लेख किया जा रहा है, उस दिन में काेटा में था। जहां अपने पिता का हर्निया का इलाज करवा रहा था। पुलिस चाहे तो रिकॉर्ड अौर मोबाइल लोकेशन देख सकती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Garoth

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×