Hindi News »Madhya Pradesh »Garoth» बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ व स्वच्छता का संकल्प ले 24 जाेड़े परिणय-सूत्र में बंधे

बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ व स्वच्छता का संकल्प ले 24 जाेड़े परिणय-सूत्र में बंधे

बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ आैर स्वच्छता के संकल्प के साथ 24 जोड़े परिणय-सूत्र में बंधे। धर्मराजेश्वर चंदवासा में आद्य गौड़...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 21, 2018, 02:30 AM IST

बेटी-बचाओ, बेटी पढ़ाओ आैर स्वच्छता के संकल्प के साथ 24 जोड़े परिणय-सूत्र में बंधे। धर्मराजेश्वर चंदवासा में आद्य गौड़ ब्राह्मण समाज के प्रथम नि:शुल्क सामूहिक विवाह सम्मेलन के दौरान जोड़ों ने यह संकल्प लिया। देररात तक चले आयोजन में मप्र सहित राजस्थान से समाजजन शामिल हुआ।

शुक्रवार को सम्मेलन को लेकर सुबह से ही हलचल शुरू हो गई थी लेकिन बरात शाम 5 बजे कार्यक्रम स्थल पहुंची। अगवानी के साथ मप्र-राजस्थान समाज के संरक्षक मोहनलाल व्यास रहीमगढ़, आचार्य पंडित नागेश्वर पांडे डोकरखेड़ा, देवीलाल व्यास देवगढ़ की विशेष उपस्थित में सामूहिक विवाह सम्मेलन शुरू हुआ। शाम 7 बजे तोरण मारने के बाद वरमाला आैर आशीर्वाद समारोह प्रारंभ हुआ। रात 10 बजे बाद पाणिग्रहण संस्कार की विधि शुरू हुई। देररात तक चले आयोजन में 24 जोड़े अग्नि के फेरे और देवताओं की साक्षी में परिणय बंधन में बंधे। सामूहिक विवाह समारोह समिति के मीडिया प्रभारी राजाराम जोशी कुरलासी, संरक्षक सुरेंद्र व्यास बर्डिया अमरा, अध्यक्ष गोवर्धनलाल व्यास भटूनी, उपाध्यक्ष राजू व्यास गुराडिया माना, कोषाध्यक्ष राजकुमार तुगनावत, सह-कोषाध्यक्ष राजेंद्र प्रधान चंदवासा, कन्हैयालाल व्यास पिपलिया मीठेशाह, अशोक जोशी कुरलासी, गंगाराम तिवारी, जितेंद्र तिवारी चंदवासा, बद्रीलाल व्यास मोटा गांव, गोवर्धनलाल जोशी रावत खेड़ा, रमेशचंद व्यास सरवर, शंकरलाल व्यास, कैलाश तुगनावत गुडभेली सहित समाजजन ने व्यवस्था संभाली।

धाकड़ समाज के 22 जोड़ों को परिणय हुअा

गरोठ | ग्राम बरखेड़ा गंगासा में शुक्रवार को धाकड़ समाज का सामूहिक विवाह सम्मेलन संपन्न हुआ। जिसमें 22 जोड़े परिणय-सूत्र में बंधे, जिनमें से गरोठ जनपद पंचायत में पंजीकृत हुए स्थानीय 11 जोड़ों को मुख्यमंत्री कन्यादान योजना का लाभ मिला।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Garoth

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×