Hindi News »Madhya Pradesh »Gohad» मिडिल स्कूल परिसर में बांधे जा रहे हैं मवेशी

मिडिल स्कूल परिसर में बांधे जा रहे हैं मवेशी

नया बस स्टैंड के पास संचालित सरकारी मिडिल स्कूल परिसर में स्थानीय लोगों ने तबेला बना लिया है। स्कूल के पास रहने...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 04, 2018, 06:15 AM IST

मिडिल स्कूल परिसर में बांधे जा रहे हैं मवेशी
नया बस स्टैंड के पास संचालित सरकारी मिडिल स्कूल परिसर में स्थानीय लोगों ने तबेला बना लिया है। स्कूल के पास रहने वाले दबंग अपने-अपने मवेशियों को परिसर में बांध देते हैं, जिससे स्कूल में गंदगी के साथ स्टाफ और बच्चों को परेशानी हो रही है। इतना ही नहीं बस स्टैंड पर बिल्डिंग मटेरियल का व्यापार करने वाले व्यापारी भी अपनी दुकान का मटेरियल स्कूल परिसर में डलवा रहे हैं। यही मटेरियल हर रोज स्कूल में दाखिल होकर ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में भरा जाता है। एसे में स्कूल में शिक्षा प्राप्त करने वाले छात्रों को पढ़ाई में व्यवधान उत्पन्न होता है। शिक्षकों ने मामले को लेकर नपाधिकारियों व एसडीएम से शिकायत की है, मगर अतिक्रमण कारियों के खिलाफ किसी प्रकार की ठोस कार्रवाई नहीं की गई है।

स्कूल परिसर में चारों तरफ गंदगी फैली हुई है

बस स्टैंड के पास मोहल्लों में रहने वाले पशुपालक सुबह अपनी भैंसों को स्कूल परिसर में बांध देते हैं। यह मवेशी परिसर में चौतरफा गंदगी फैलाती हैं, जिसकी सफाई भी ठीक से नहीं की जाती है। स्कूल के शिक्षकों का कहना है कि परिसर में बच्चों के खेलकूंद के आयोजन कराए जाते हैं तब स्कूल में बंधे मवेशियोंं से अधिक परेशानी होती है। स्टाफ के सदस्य जब मवेशियों को हटाने के लिए कहते हैं तो पशुपालक विवाद पैदा करने पर आमादा हो जाते हैं। खास बात यह है कि स्कूल में फैली गंदगी जिम्मेदार अफसरों से भी छिपी हुई नहीं है। लेकिन वह इस ओर ध्यान नहीं दे रहे हैं। हालांकि कई बार स्कूल स्टाफ की ओर से प्रशासनिक अफसरों से भी शिकायत की जा चुकी है।

अनदेखी

गोहद शासकीय मिडिल स्कूल परिसर में लगे हुए हैं बिल्डिंग मेटेरियल के ढेर

स्कूल परिसर में बंधे हुए मवेशी

स्कूल परिसर में अतिक्रमण की समस्या इसलिए आ रही है, क्योंकि स्कूल में बाउंड्रीवॉल नहीं कराई गई है। स्कूल के हैडमास्टर 000000 ने बाउंड्रीवॉल के लिए कई बार विभागीय अधिकारियों को अवगत कराया है। मगर स्कूल में न बाउंड्री बनी है और न हीं अतिक्रमण हटाया गया है। खास बात यह है कि व्यापारी भवन निर्माण का मटेरियल स्कूल में रखते हैं, जिन पर कभी कोई कार्रवाई नहीं होती है। बरहाल स्कूल में पढ़ने वाले 400 बच्चों के साथ स्टाफ के लोगों को गंदगी से जूझना पड़ रहा है। जिसकी तरफ जिम्मेदार मूकदर्शक बने हुए हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gohad News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: मिडिल स्कूल परिसर में बांधे जा रहे हैं मवेशी
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gohad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×