• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Guna News
  • हनुमानजी को चढ़ाया चोला, झंडे के साथ निकाली शोभायात्रा
--Advertisement--

हनुमानजी को चढ़ाया चोला, झंडे के साथ निकाली शोभायात्रा

भास्कर टीम|गुना/चांचौड़ा/कुंभराज/आरोन/राघौगढ़/जामनेर/धरनावदा हनुमान जयंती पर जिलेभर में विभिन्न गांवों व कस्बों...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:30 AM IST
भास्कर टीम|गुना/चांचौड़ा/कुंभराज/आरोन/राघौगढ़/जामनेर/धरनावदा

हनुमान जयंती पर जिलेभर में विभिन्न गांवों व कस्बों में शोभा यात्राएं निकाली गई। जयंती के मौके पर शनिवार को जिले के बीनागंज, चांचौड़ा, आरोन, कुंभराज आदि में विश्व हिंदू परिषद और बजरंगदल द्वारा चल समारोह व शोभा यात्राएं निकाली गई। वहीं जामनेर के टोडरा में 200 साल पुरानी परम्परा के अनुसार बैलगाड़ी बालाजी की शोभा यात्रा निकाली गई।

108 मंदिरों में हुआ सामूहिक सुंदरकांड, हनुमान चालीसा पाठ: विराट हिंदू उत्सव-चिंतन मंच के तहत हनुमान जयंती महाशक्ति दिवस के रूप में मनाई गई। हिउस अध्यक्ष कैलाश मंथन ने बताया कि पिछले एक दशक से हनुमान जयंती शक्ति दिवस के रूप में मनाई जा रही है। इस दौरान चिंतन मंच के तहत 108 स्थानों पर सुंदरकांड के पाठ किए गए। सुंदरकांड का निशुल्क वितरण किया। सराफा बाजार, बालाजी मंदिर सदर बाजार में हनुमान जयंती पर केंद्रित बौद्धिक सभा हुई। इसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालु शामिल हुए।

शिवाजी नगर से यात्रा निकालकर टेकरी सरकार को चढ़ाया झंड़ा: हनुमान जयंती पर हर साल की तरह इस बार भी शहर के शिवाजीनगर दुर्गा कॉलोनी से यात्रा निकालकर टेकरी सरकार को झंडा चढ़ाया गया। झंडा यात्रा समिति के राहुल ग्वाल, शिवा सोनी, अमन नामदेव, अमित ओझा ने बताया कि सुबह साढ़े 5 बजे आरंभ हुई यात्रा में शामिल श्रद्धालु हनुमान टेकरी पहुंचे। जहां पर टेकरी सरकार को झंडा चढ़ाया गया।

भारत विकास परिषद ने चौराहे पर बांटी महाप्रसादी : भारत विकास परिषद की गुना शाखा द्वारा हनुमान जयंती पर महाप्रसादी वितरित की गई। सुबह 8 से 11 बजे तक हनुमान चौराहे स्थित हनुमान मंदिर के सामने महाप्रसादी वितरित की गई।

नाचते-गाते निकाली शोभा यात्रा : आरोन|हनुमान जयंती पर शनिवार को विश्व हिंदू परिषद और बजरंगदल जय भवानी के बैनर तले कस्बे में शोभा यात्रा निकाली गई। इसमें शामिल युवाओं की टीम डीजे पर बज रही भजनों की प्रस्तुतियों पर थिरकते हुए चल रही थी। विजय हनुमान मंदिर से गुलाबगंज होकर दास हनुमान मंदिर पर पहुंची यात्रा के बाद महाआरती व प्रसादी वितरण के साथ इसका समापन हुआ।