--Advertisement--

2 साल बढ़ाने की घोषणा के दूसरे दिन 11 रिटायरमेंट

जिस दिन कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र 2 साल बढ़ाने की घोषणा हुई, उसके दूसरे दिन ही जिले में 11 कर्मचारियों का...

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 02:35 AM IST
जिस दिन कर्मचारियों के रिटायरमेंट की उम्र 2 साल बढ़ाने की घोषणा हुई, उसके दूसरे दिन ही जिले में 11 कर्मचारियों का विदाई समारोह आयोजन किया गया। हालांकि इसमें सिर्फ 5 ही पहुंचे। इन्हें माला पहनाकर विदाई दी गई। यह कर्मचारी अब 31 मार्च से काम पर आना बंद कर देंगे। हालांकि सीएम की घोषणा के बाद भी आदेश न आने से कर्मचारियों में मायूसी थी।

चुनावी साल में कर्मचारियों को खुश करने के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को रिटायरमेंट की उम्र 2 साल बढ़ाने की घोषणा की थी। इसमें कहा है कि 31 मार्च को रिटायर होने वाले कर्मचारी को भी लाभ मिलेगा। वहीं इसके आदेश देर शाम तक नहीं आए। इस वजह से जिले से रिटायर होने वाले कर्मचारियों को कलेक्ट्रोरेट में समारोह आयोजित कर विदाई दी गई। इसमें सभी विभाग के अधिकारी मौजूद थे। जिले के विभिन्न कार्यालय में पदस्थ 11 कर्मचारियों को विदाई समारोह में बुलाया था, लेकिन 5 ही पहुंचे। शेष व्यस्तता के चलते नहीं आए। रिटायर हुए कर्मचारियों ने अपने अनुभव भी सांझा किए और बताया कि उनका कार्यस्थल हमेशा अन्य लोगों का सहयोग मिला।

नियम का फायदा नहीं मिला

आदेश न आने की वजह से जिले में 11 कर्मचारियों के रिटायरमेंट की प्रक्रिया पूरी, 31 से नहीं आएंगे काम पर

सिर्फ एक ही चर्चा आदेश क्यों नहीं आया

जिला पेंशन कार्यालय द्वारा विदाई समारोह रखा गया था। इन कर्मचारियों के समस्त भुगतान के बिल भी तैयार किए जा चुके हैं। इनके पेंशन प्रकरण भी बन गए हैं। यानी रिटायरमेंट की पूरी प्रक्रिया हो चुकी है। विदाई समारोह में कर्मचारियों का कहना था कि सिर्फ घोषणा हुई है, आदेश क्यों अब तक नहीं आया।