• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Guna
  • फायरिंग में 2 छात्र हुए घायल, छत पर खून से लथपथ पड़े थे, कट्टा दूर मिला
--Advertisement--

फायरिंग में 2 छात्र हुए घायल, छत पर खून से लथपथ पड़े थे, कट्टा दूर मिला

भास्कर संवाददाता | गुना/कुंभराज कुंभराज के गीतानगर में किराए के भवन में रहने वाले बॉयोलॉजी के 2 छात्र छत पर खून...

Dainik Bhaskar

Feb 01, 2018, 02:40 AM IST
फायरिंग में 2 छात्र हुए घायल, छत पर खून से लथपथ पड़े थे, कट्टा दूर मिला
भास्कर संवाददाता | गुना/कुंभराज

कुंभराज के गीतानगर में किराए के भवन में रहने वाले बॉयोलॉजी के 2 छात्र छत पर खून में लथपथ मिले। फायरिंग की आवाज सुनकर उसका एक दोस्त छत पर पहुंचा तो उसने पुलिस को सूचना दी। घायलों को उपचार के लिए गुना लाया गया। घटना स्थल को देख पुलिस उलझन में है, क्योंकि जिस कट्टे से फायरिंग हुई है वह घटना स्थल से काफी दूर पड़ा मिला।

कुंभराज के गीतानगर में रामदयाल सेन के मकान सिंहगनपुर निवासी 20 वर्षीय मोहन सेन 3 माह पहले किराए से रूम लेकर रह रहा था। युवक कक्षा 11वीं का बॉयो का छात्र है। उसकी गुरुवार सुबह हिंदी की परीक्षा थी। इस वजह से वह छत पर अध्ययन कर रहा था। उसका एक अन्य दोस्त श्याम मीना भी उसके पास ही बैठा था। दोनों परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। इसी दौरान कुंभराज में ही रहने वाला एक अन्य युवक दीपक मीना आ गया। वह भी 11वीं का ही छात्र है। उसने मोहन से कहा कि तेरी परीक्षा अध्ययन पुस्तिका मुझे पढ़ने के लिए दे। दोनों के बीच चर्चा चल ही रही थी कि श्याम उठा और छत से उतरकर नीचे आ गया। तभी अचानक फायरिंग की आवाज सुनाई दी तो वह वापस छत पर पहुंचा तो दीपक और मोहन खून में लथपथ पड़े थे। तुरंत पुलिस को सूचना देकर उन्हें स्वास्थ्य केंद्र आया गया, जहां से उन्हें उच्च उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा गया।

परीक्षा की तैयारी कर रहे थे छात्र

गुरुवार को था हिंदी का पेपर

छात्रों का गुरुवार को हिंदी का पेपर थ। इस वजह से वह तैयारी कर रहे थे, लेकिन अचानक विवाद कैसे हुआ। इस बारे में पुलिस को भी कुछ पता नहीं है। पुलिस ने मकान मालिक से भी जानकारी ली, लेकिन कुछ खास जानकारी नहीं मिल पाई। वहीं दोनों युवकों के अन्य दोस्तों से भी चर्चा कर जानकारी जुटाई जा रही है।

घटनास्थल से दूर पड़ा था कट्टा

जिस कट्टे से फायरिंग हुई थी, वह घटना स्थल पर नहीं था। पुलिस ने जब छत की गैलरी में जांच की तो वह मिल गया। पुलिस पूरी घटना की जांच कर रही है। हालांकि युवकों ने भी इस घटना के संबंध में किसी को कोई जानकारी नहीं दी।

कहां से आया कट्टा

छात्रों के पास कट्टा कहां से आ गया। इस बिंदु पर जांच चल रही है। पुलिस को संदेह है कि दीपक कट्टा लेकर आया होगा। मोहन भी दीपक से ज्यादा बात नहीं करता था, लेकिन वह जबरन उससे मिलने की कोशिश करता था।

X
फायरिंग में 2 छात्र हुए घायल, छत पर खून से लथपथ पड़े थे, कट्टा दूर मिला
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..