• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Guna News
  • असंगठित मजदूरों का पंजीयन करने के लिए 425 पंचायतों में शिविर शुरू
--Advertisement--

असंगठित मजदूरों का पंजीयन करने के लिए 425 पंचायतों में शिविर शुरू

जिले के ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों में 6 अप्रैल तक चलेगा असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के पंजीयन के लिए अभियान ...

Danik Bhaskar | Apr 02, 2018, 03:00 AM IST
जिले के ग्रामीण और नगरीय क्षेत्रों में 6 अप्रैल तक चलेगा असंगठित क्षेत्र के मजदूरों के पंजीयन के लिए अभियान

भास्कर संवाददाता| गुना

जिले के ग्रामीण व शहरी क्षेत्र के असंगठित मजदूरों को चिन्हित कर उनके पंजीयन किए जा रहे हैं। इसके लिए जिलेभर में शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। जिला पंचायत सीईओ नीतू माथुर ने बताया कि मप्र असंगठित कर्मकार मंडल अधिनियम 2003 के तहत असंगठित मजदूरों को चिन्हित करने व उनके पंजीयन के लिए शिविर लगाए जा रहे हैं। शनिवार से इनकी शुरुआत हो गई है। 6 अप्रैल तक चलने वाले शिविरों में ग्रामीण क्षेत्रों के पंचायतों में और नगरीय क्षेत्रों में वार्डों में शिविर लगाकर असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदूर अपने पंजीयन करा सकते हैं। इसके लिए जिला, जनपद व नगरीय निकाय स्तर पर कंट्रोल रूम बनाए गए हैं। कंट्रोलरूम प्रभारी श्रम पदाधिकारी नरेंद्र कुमार वर्मा को बनाया गया है।

मजूदरों के चिह्नांकन और पंजीयन कार्य के लिए लग रहे शिविरों की सतत मॉनिटरिंग के लिए हर 5 से 6 पंचायत पर एक पर्यवेक्षक अधिकारी बनाए गए हैं, जबकि 10 से 13 पंचायतों पर एक जोनल अधिकारी भी बनाए गए हैं। पूरे जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कुल 84 अधिकारियों को पर्यवेक्षक की जिम्मेदारी दी गई है, वहीं इनके ऊपर भी जोनल अधिकारी तैनात किए गए। शिविरों में जिले की 425 पंचायतों के सरपंच, सचिव, ग्राम रोजगार सहायक चिन्हित करेंगे। शिविरों में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, स्वच्छता प्रेरक, पटवारी उपस्थित रहकर चिह्नांकन व पंजीयन कार्य की कार्रवाई में मदद करेंगे।