--Advertisement--

 बजट बताओ चैलेंज

 हाउसिंग के लिए सरकार क्या करेगी?  होमलोन पर ब्याज छूट सीमा 2 से बढ़ाकर 3 लाख करेगी।  होमलोन के प्रिंसिपल...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:25 AM IST
 बजट बताओ चैलेंज
 हाउसिंग के लिए सरकार क्या करेगी?

 होमलोन पर ब्याज छूट सीमा 2 से बढ़ाकर 3 लाख करेगी।

 होमलोन के प्रिंसिपल अमाउंट की सीमा बढ़ाएगी।

 अ और ब दोनों हो सकते हैं।  इनमें से कोई नहीं।

  इनमें से कोई नहीं

इस प्रश्न का जवाब 1.87 लाख लोगों ने दिया। इसमें से 11 प्रतिशत यानी करीब 20 हजार लोगों का अनुमान सही साबित हुआ।

35% बोले होमलोन पर ब्याज छूट सीमा 2 से बढ़ाकर 3 लाख करेगी।

33% का मानना था कि अ और ब दोनों होंगे।

 किसानों के लिए सरकार क्या करेगी?

 किसानों की न्यूनतम आय तय करने के लिए कदम उठाएगी।

 कृषि कर्ज पर मिलने वाली ब्याज छूट और बढ़ाएगी।

 अ और ब दोनों हो सकते हैं।  इनमें से कोई नहीं।

  किसानों की न्यूनतम आय तय करने के लिए कदम उठाएगी।

इस प्रश्न का जवाब 1.87 लाख लोगों ने दिया। इसमें से 23 प्रतिशत यानी 41 हजार लोगों का अनुमान सही साबित हुआ।

23% किसानों की न्यूनतम आय तय करने के लिए कदम उठाएगी।

40% अ और ब दोनों।

...तो Rs.467 आएंगे हर गरीब के हिस्से में

नवंबर 2016 की नोटबंदी के बाद 18,529 करोड़ की ब्लैकमनी मिली। मोदी ने दावा किया था कि स्विस बैंकों में जमा कालाधन आए तो हर गरीब को 15-20 रुपए लाख मिल जाएंगे।

नोटबंदी में जो पैसा आया उसे गरीबों में बांटें तो हर एक के हिस्से में करीब ‌Rs.467 आएंगे।

ई-पेमेंट

मोबाइल बैंकिंग और एम-वॉलेट ट्रांजैक्शन बढ़े, फिर गिरे; अब स्थिर





जनवरी

अप्रैल

11.7करोड़ विमान यात्री 2017 में, 6 साल में दोगुना, 2011 में 5.98 करोड़ यात्री थे

86.1% क्षमता के साथ उड़ान भरी एयरलाइंस ने पिछले साल, 6 साल में उन्होंने क्षमता 68% बढ़ाई

11 लाख करोड़ का होगा रियल्टी मार्केट 2020 तक। कृषि के बाद दूसरा अधिक रोजगार देने वाला क्षेत्र। 3.5 करोड़ लोग काम करते हैं।

12% जीएसटी लगता है फ्लैट खरीदने पर। पहले 4.5% सर्विस टैक्स और 1% वैट था। 6.5% ज्यादा टैक्स लग रहा है। साथ में स्टांप ड्यूटी भी।

(स्रोत : आर्थिक सर्वेक्षण, एनपीसीआई, आरबीआई, डीजीसीए, आईएटीए)

 जानिए सरकार के इस कड़े कदम के बाद अब डिजिटल इकोनॉमी के क्या हैं हाल

हमें इस बजट में ऐसा ही लाभ मिला है

पु राने समय की बात है। काशी में प्रताप नाम का राजा था। उसके बेटे व्रज का स्वास्थ्य खराब रहता था। एक बार व्रज ने प|ी चंद्रप्रभा से कहा- मैं मर जाऊं तो चिता में मेरा सारा धन रख देना। प|ी के होश उड़ गए। आखिर जब व्रज का देहांत हो गया, तो चंद्रप्रभा ने एक बड़ा डिब्बा चिता पर रखा। परिवार ने पूछा ऐसा क्यों कर रही हो? चंद्रप्रभा ने जवाब दिया- वो मेरे पति थे, मैं उनसे झूठ नहीं बोल सकती थी। मैंने सारा धन राजकोष में जमा करवा लिया है और चिता पर उनके नाम का भुगतान पत्र (चेक) रख दिया है। इतनी चतुराई से वादा निभाने पर चंद्रप्रभा की काफी प्रशंसा हुई। लोगों ने पूछा चंद्रप्रभा कौन हैं?

जवाब मिला- राजा की बहू चंद्रप्रभा अपने इसी चातुर्य के लिए प्रसिद्ध हैं और राज्य में वित्त विभाग संभालती हैं। वर्षों से जनता को ऐसे ही खुश कर रही हैं।

आंकड़े करोड़ में

जुलाई

सितंबर

32% कृषि कर्ज पर मिलने वाली ब्याज छूट और बढ़ाएगी।

05% इनमें से कोई नहीं।

नवंबर

100उड़ानें हर घंटे, 2011 में 67 उड़ानें हर घंटे थीं, 6 साल में 49% बढ़ोतरी हुई

21% ने कहा होमलोन के प्रिंसिपल अमाउंट की सीमा बढ़ाएगी।

11% ने कहा इनमें से कोई नहीं।

वर्ल्ड बैंक की 2013 की रिपोर्ट के अनुसार

30%

गरीब भारत में हैं

एटीएम

अगस्त 2016 में लोगों ने कैश निकाले

यानी नोटबंदी के पहले के दिनों से अब ज्यादा कैश निकाला जा रहा है

नोेटबंदी के महीने में निकाले

2025 में चीन और अमेरिका के बाद भारत सबसे बड़ा मार्केट होगा। अभी चौथे नंबर पर।

58 हजार रेसिडेंशियल यूनिट लांच हुए पहल छमाही में, 5 साल में सबसे कम। अक्टूबर में बिना बिके घरों की संख्या 8.07 लाख थी।

अक्टूबर 2017 में निकाले

आंकड़े लाख करोड़

500 विमान हैं अभी सर्विस में, 2025 तक 800 नए विमान खरीदे जाएंगे

X
 बजट बताओ चैलेंज
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..