• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Guna
  • ‘अभी तक अंगड़ाई है आगे और लड़ाई है’ नाटक से बताया कैसे बदल रही जीवन शैली, चांचड़ खेली
--Advertisement--

‘अभी तक अंगड़ाई है आगे और लड़ाई है’ नाटक से बताया कैसे बदल रही जीवन शैली, चांचड़ खेली

गुना | जैन समाज के दो दिवसीय विमानोत्सव का आरंभ गुरुवार को हुआ। सुबह चौधरी मोहल्ला स्थित श्री पार्श्वनाथ दिगंबर...

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 03:25 AM IST
‘अभी तक अंगड़ाई है आगे और लड़ाई है’ नाटक से बताया कैसे बदल रही जीवन शैली, चांचड़ खेली
गुना | जैन समाज के दो दिवसीय विमानोत्सव का आरंभ गुरुवार को हुआ। सुबह चौधरी मोहल्ला स्थित श्री पार्श्वनाथ दिगंबर जैन मंदिर पर श्रीजी का अभिषेक, शांतिधारा हुई। इसके बाद रजत रथ में भगवान की प्रतिमाओं का विराजमान कर विमानोत्सव का जुलूस शुरू हुआ। यह जुलूस चौधरी मोहल्ला, बताशा गली, निचला बाजार, सदर बाजार, जयस्तंभ चौराहा, बीजी रोड होते हुए नसियांजी पहुंचा।

धार्मिक उल्लास के साथ दिए सामाजिक संदेश : विमानोत्सव में इस बार जहां एक ओर युवाओं द्वारा चांचड़, लहंगी का खास प्रदर्शन किया गया। वहीं दूसरी ओर विभिन्न सामाजिक संगठनों की झांकियों ने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ, इंडिया नहीं भारत बोलो, स्वदेशी अपनाओ, हिन्दी मेरा स्वाभिमान आदि का संदेश दिया।

बच्चों के नाटक ने बताए बदलती जीवन शैली के दुष्प्रभाव

विमानोत्सव के दौरान पार्श्व नाथ बड़ा जैन मंदिर पाठशाला परिवार द्वारा नृत्य नाटिका ‘अभी तक अंगड़ाई है आगे और लड़ाई है की प्रस्तुति दी। जिसके माध्यम से देश में आर्थिक और सामाजिक विषमता को रेखांकित किया गया। कम्प्यूटर युग ने कैसे हमारी जीवन शैली को बदल दिया है, इसका चित्रण भी इस नाटक में हुआ। इस अवसर पर ब्रह्मचारिणी संगीता दीदी ने धर्म को संबोधित करते हुए कहा कि जीवन में यदि सुखों की प्राप्ति करनी है तो हमें कर्म भी अच्छे करने होंगे। कार्यक्रम का संचालन अनिल अंकल एवं उपाध्यक्ष अनिल बड़कुल ने किया। इस अवसर पर जैन समाज अध्यक्ष संजीव जैन, मंत्री कमलेश जैन, उपाध्यक्ष राजेन्द्र जैन, शैलेष चौधरी, संभव जैन, संजय जैन, संजय जैन, अनिल सर्राफ, दीपेश पाटनी आदि मौजूद थे।

जैन समाज के दो दिवसीय विमानोत्सव

X
‘अभी तक अंगड़ाई है आगे और लड़ाई है’ नाटक से बताया कैसे बदल रही जीवन शैली, चांचड़ खेली
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..