• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Guna News
  • 10 दिन बाद डीटीओ बैठे तो फिटनेस के लिए सड़क तक लगीं वाहनों की लाइन
--Advertisement--

10 दिन बाद डीटीओ बैठे तो फिटनेस के लिए सड़क तक लगीं वाहनों की लाइन

25 से ज्यादा ऑटो चालकों को लौटना पड़ा खाली हाथ, वजह : अंधेरा होने की वजह से फोटो नहीं खिंच पाए भास्कर संवाददाता |...

Danik Bhaskar | Feb 02, 2018, 03:25 AM IST
25 से ज्यादा ऑटो चालकों को लौटना पड़ा खाली हाथ, वजह : अंधेरा होने की वजह से फोटो नहीं खिंच पाए

भास्कर संवाददाता | गुना

आरटीओ ऑफिस के सामने गुरुवार को दिनभर वाहनों का जमघट लगा रहा। वजह थी कि लंबे समय बाद क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी यानि आरटीओ ऑफिस में बैठे थे। इस दौरान वाहनों को फिटनेस सार्टिफिकेट जारी नहीं हो पाए। फिर जब वे ऑफिस में आए तो वाहनों की लंबी लाइन लग गई। ऑफिस के परिसर में इतनी जगह नहीं थी कि उन सभी को अंदर आने दिया जाए। इसलिए वे सड़कों पर ही खड़े रहे।

इस दौरान कई बार विवाद की स्थिति बन गई। करीब 25 से 30 ऑटो के फिटनेस जांच नहीं हो पाई। इस मामले में आरटीओ दीपक मांझी का कहना था कि अंधेरा होने की वजह से उनके फोटो नहीं लिए जा सकते थे। इसलिए उन्हें शुक्रवार को बुलाया गया है। दूसरी ओर ऑटो चालकों का कहना था कि वे दोपहर 2 बजे से ऑफिस में मौजूद थे और शाम 6 बजे तक इंतजार करते रहे। इस दौरान कई दूसरे वाहनों का नंबर लग गया। उनका आरोप है कि यह वाहन एजेंट के मार्फत आए थे, इसलिए उनका काम पहले हो गया। जबकि हम ऑनलाइन आवेदन करने के बाद तय प्रक्रिया के मुताबिक पहुंचे थे।

फिटनेस न होने से पेनाल्टी लगेगी

ऑटो चालकों का कहना था कि फिटनेस न होने से हर दिन 50 रुपए पैनाल्टी लग रही है। आरटीओ के ऑफिस में न बैठने से उन्हें नुकसान हुआ है। अब उनके साथ फिर से टालमटोल की जा रही है।