Hindi News »Madhya Pradesh »Guna» शहर को पांच साल बाद सीधे चेन्नई तक जाने के लिए मिली नई ट्रेन

शहर को पांच साल बाद सीधे चेन्नई तक जाने के लिए मिली नई ट्रेन

फिलहाल यह ट्रेन हफ्ते में एक दिन गुरुवार को चलेगी, गुना के बाद बीना और फिर सीधे भोपाल ही रुकेगी नई ट्रेन भास्कर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 03:25 AM IST

फिलहाल यह ट्रेन हफ्ते में एक दिन गुरुवार को चलेगी, गुना के बाद बीना और फिर सीधे भोपाल ही रुकेगी नई ट्रेन

भास्कर संवाददाता | गुना

करीब पांच साल बाद गुना के यात्रियों को एक नई ट्रेन मिल रही है। यह ट्रेन भगत की कोठी (जोधपुर) से गुना, बीना, भोपाल बाया नागपुर होकर चेन्नई तक जाएगी। हमसफर श्रेणी की यह ट्रेन फिलहाल तो साप्ताहिक ही रहेगी। खास बात यह है भोपाल के लिए यह तीसरी ट्रेन मिल रही है। इससे पहले इंटरसिटी और जोधपुर-भोपाल चल रही है। इस ट्रेन की मांग पिछले पांच साल से लगातार की जा रही थी। इस ट्रेन के बाद हमारे शहर का संपर्क देश के चारों महानगरों से हो गया है। इससे पहले दिल्ली, मुंबई और कोलकाता के लिए अलग-अलग ट्रेनें चल ही रही हैं।

भोपाल के लिए अब तीन ट्रेनें, देश के चारों महानगरों से सीधा जुड़ा शहर, 2013 के रेल बजट में ग्वालियर-पुणे ट्रेन घोषित हुई थी

यह रहेगी ट्रेन की टाइमिंग

भगत की कोठी-चेन्नई (14815) : गुरुवार सुबह 5.15 पर गुना आएगी और 5.25 पर चलेगी। सुबह 11 बजे यह भोपाल पहुंचेगी। इस दौरान इसका सिर्फ बीना में ही स्टापेज रहेगा।

चेन्नई - भगत की कोठी (14816) : शनिवार रात 10.25 पर भोपाल आने के बाद 10.35 पर चलकर रविवार अल सुबह 3.30 पर गुना पहुंचेगी।

क्या होगा फायदा

इंटरसिटी और जोधपुर-भोपाल के बाद यह तीसरी ट्रेन होगी, जो गुना को पराजधानी से जोड़ेगी

देश के चारों महानगरों, मुंबई, कोलकाता, दिल्ली और चेन्नई के लिए यहां से सीधी सुविधा

गुना स्टेशन से बीना के लिए सप्ताह में सुबह कम से कम एक ट्रेन रहेगी। वर्तमान में सुबह 3.25 के बाद सुबह 10 बजे तक कोई ट्रेन नहीं मिल पाती है।

बजट से पहले आई सूचना

इस ट्रेन के चलने की सूचना जिला कांग्रेस की ओर से जारी हुई है। जिलाध्यक्ष योगेंद्र लुंबा ने बताया कि सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा पिछले 3-4 सालों से इस ट्रेन को लेकर रेल मंत्रालय से संपर्क में थे। उन्होंने बताया कि अब हम इस ट्रेन के फेरे व स्टापेज बढ़ाने की मांग भी करेंगे, जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग इसका फायदा उठा सकें।

अब पिंक बुक से पता चलेगा कि हमें और क्या मिलेगा

रेल बजट जारी होेने के बाद से किसी क्षेत्र को नए वित्तीय वर्ष में क्या मिला क्या नहीं इसका पता तब ही चलता है, जब रेलवे द्वारा पिंक बुक जारी की जाती है। यह अगले दो-तीन दिन में जारी हो जाएगी। इसमें ब्यौरा दिया जाएगा कि किस काम के लिए कितने पैसे स्वीकृत किए गए। हालांकि नई ट्रेनों की सूची इसमें नहीं आती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Guna

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×