4 किमी में 7 पनडुब्बी से निकाल रहे थे रेत, दल पहुंचा तो नाव में 2 पनडुब्बी लेकर अशोकनगर भागा माफिया

Guna News - जिला मुख्यालय से मात्र 35 किमी दूर रेत के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ हुआ, जंगलों के बीच सिंध नदी के घाट पर पनडुब्बी से...

Bhaskar News Network

May 18, 2019, 07:31 AM IST
Guna News - mp news 4 km away from the 7 submarines were sands the crew reached the boat carrying 2 submarines and the mafia ran from ashoknagar
जिला मुख्यालय से मात्र 35 किमी दूर रेत के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ हुआ, जंगलों के बीच सिंध नदी के घाट पर पनडुब्बी से रेत खनन की जा रही थी। गुना से पहुंची टीम ने इस स्थल पर पहुंचकर कार्रवाई की। 4 किमी के हिस्से में 7 पनडुब्बी नदी में डालकर रेत निकालने का कार्य चल रहा था। जैसे ही अधिकारी पहुंचे तो खलबली मच गई, इस कारोबार से जुड़े लोग जंगल की तरफ भाग निकले। 2 पनडुब्बी घेरे में आने से बच गई, वह इसे नाव में रखकर उस पार ले गए, जो अशोकनगर जिले की सीमा लगती है। इस वजह से कार्रवाई नहीं हो सकी। लेकिन जिले की सीमा में पकड़ी सभी पनडुब्बी को आग लगाकर नष्ट किया गया।

शुक्रवार सुबह ही म्याना क्षेत्र के श्यामपुर एसडीएम शिवानी गर्ग, म्याना थाना प्रभारी सौरभ रतनाकर और तहसीलदार सोनू गुप्ता सिंध नदी के घाट पर पहुंचे। पूरी टीम ने अपने वाहनों को पहले गांव में ही रख दिया। स्थानीय लोगों से चर्चा की तो उन्होंने पूरी जानकारी अधिकारियों को दी, बताया कि इस स्थल तक पैदल ही पहुंचा जा सकता है। अब तक कोई नहीं आया है। अधिकारी वाहनों से आते हैं तो कारोबार भाग निकलते हैं। गांव के लोगों के इस संकेत के बाद तीनों अधिकारी पैदल-पैदल 4 किमी तक चलते रहे, इस क्षेत्र में 7 पनडुब्बी मिली, जिससे रेत निकाली जा रही थी। लोगों ने देखा कि अधिकारी आ चुके हैं तो वह बचकर भाग निकले, नदी के घाट से ही जंगल लगा हुआ है और भौगोलिक स्थिति की भी समझ हैं। यह वजह है कि पकड़े जाने के संकेत मिलते ही यह बच निकलते हैं। लेकिन अच्छी बात यह रही कि अधिकारियों ने नदी घाट पर मिली सभी 7 पनडुब्बी को आग लगा दी।

श्यामपुर में सिंध नदी के घाट पर प्रशासन ने 5 पनडुब्बी जब्त की, सभी को वहीं जलाया

कलेक्टर को मिली थी सूचना, भेजी टीम

कलेक्टर भास्कर लाक्षाकार को इस अवैध कारोबार के संबंध में सूचना मिली थी, उन्होंने एसडीएम शिवानी गर्ग को टीम के साथ मौके पर भेजा। उनके पहुंचने के बाद इस अवैध कारोबार का भंडाफोड़ हुआ।

खनिज विभाग की कार्रवाई पर सवाल

प्रशासन द्वारा की गई इस कार्रवाई से साफ हो गया है कि जिले में बड़े पैमाने पर खनिज का अवैध कारोबार चल रहा है। हालांकि खनिज विभाग ने इस संबंध में कभी बड़ी कार्रवाई नहीं की है। इससे उसकी कार्यप्रणाली सवालों के घेरे में आती है।

टीम के पास उस पार जाने के लिए नहीं थी नाव

अधिकारियों के मौके पर पहुंचते ही दो व्यक्ति पनडुब्बी को नाव में रखकर नदी के उस पार ले भागे। टीम के पास उस पार जाने के लिए कोई नाव नहीं थी।

चौथे दिन कार्रवाई

इस क्षेत्र में चौथे दिन कार्रवाई की गई है। सबसे अच्छी बात यह रही कि हर दिन कुछ न कुछ मिला। पहले दिन 4 डंपर, 1 ट्रैक्टर और 1 पोकलेन मशीन जब्त की थी, दूसरे दिन 2 ट्रैक्टर पकड़े थे। तीसरे दिन कुछ नहीं मिला ।

100 से अधिक कंकड़-पत्थर के ढेर लगे हुए मिले

सिंध नदी से रेत निकालने के दौरान कंकड़-पत्थर भी साथ में बाहर आते हैं, इसलिए इन्हें छननी से छाना जाता है। बारिक रेत को एकत्रित कर बेच देते हैं। जबकि कंकड़-पत्थर के ढेर लग जाते हैं। इस स्थल पर 100 से ज्यादा कंकड़-पत्थर के ढेर लगे थे। इनकी ऊंचाई 60 से 70 फीट थी। इसके अलावा जगह-जगह रेत के भी ढेर मिले, करीब यह 500 ट्राली से ज्यादा थे। खनिज माफिया प्रतिदिन ट्रैक्टरों से इसे ढोकर ले जाते हैं और बेच देते हैं।



X
Guna News - mp news 4 km away from the 7 submarines were sands the crew reached the boat carrying 2 submarines and the mafia ran from ashoknagar
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना