• Hindi News
  • Mp
  • Guna
  • Guna News mp news lineman dies due to current even after permit listen to je39s answer climbed the wrong line

परमिट के बाद भी लाइन चालू करने से लाइनमैन की करंट से मौत, जेई का जवाब तो सुनिए- गलत लाइन पर चढ़ गया था

Guna News - पुलिस ने ऑपरेटर और मृतक दोनों के मोबाइल जब्त किए भास्कर संवाददाता | गुना/धरनावदा शनिवार को ककवासा गांव में...

Nov 10, 2019, 08:01 AM IST
पुलिस ने ऑपरेटर और मृतक दोनों के मोबाइल जब्त किए

भास्कर संवाददाता | गुना/धरनावदा

शनिवार को ककवासा गांव में बिजली कंपनी के एक लाइनमैन कमलेश गुर्जर निवासी विजयपुर की करंट लगने से मौत हो गई। उसे सकतपुर फीडर पर जंपर जोड़ने का काम सौंपा गया था। इसके लिए रुठियाई स्थित सब स्टेशन से बाकायदा परमिट भी जारी हुआ।

इसके बावजूद लाइन चालू कर दी गई और 11 केवी के करंट से लाइनमैन की मौके पर ही मौत हो गई। घटना दोपहर को 2 बजे हुई और लाइनमैन का शव ढाई घंटे तक तारों पर लटका रहा। इस दौरान न पुलिस पहुंची न बिजली कंपनी के अधिकारी। करीब एक घंटे बाद पुलिस पहुंची और देरी के सवाल पर सफाई दी कि अध्योध्या पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के चलते इमरजेंसी ड्यूटी पर थे। बिजली कंपनी के अधिकारी तो पहुंचे ही नहीं। उलटे रुठियाई सब स्टेशन के सुपरवाइजर गायब हो गए। अब अधिकारी यह साबित करने की कोशिश कर रहे हैं कि गलती लाइनमैन की ही थी। उनका कहना है कि उसे जिस लाइन पर काम करने का परमिट दिया गया था, वह उसकी जगह दूसरी लाइन पर काम करने लगा था। मृतक अपने घर में अकेला कमाने वाला था। उसके दो और छोटे भाई हैं।

नाराजगी : दो गांव के एक हजार से ज्यादा लोग एकत्रित हुए तो तहसीलदार ने मनाया

खबर फैलते ही लाइन मैन के गांव विजयपुर और ककवासा से करीब एक हजार लोग एकत्रित हो गए। एक घंटे बाद पुलिस पहुंची तो उन्होंने उसे शव को नहीं उतारने दिया। उनका कहना था कि जब तक बिजली कंपनी के बड़े अधिकारी नहीं आएंगे तब तक वे शव को नहीं उतारने देंगे। ढाई घंटे तक चला गतिरोध तब टूटा जब मामला कलेक्टर तक पहुंचा। कलेक्टर के निर्देश पर तहसीलदार सिद्धार्थ भूषण मौके पर पहुंचे और उनके मनाने पर लोग माने।

सुपरवाइजर ने बीमारी का बहाना बनाया

फोन पर ही पूरी बात हुई। जबकि सब कुछ लिखित में होना चाहिए था। घटना के बाद रुठियाई स्थित कंपनी कार्यालय पर ताला लटका मिला। सुपरवाइजर ने बीमारी का बहाना बना दिया और बाद में अपना फोन भी स्विच ऑफ कर लिया।

अधिकारियों का दावा - गलत लाइन पर चढ़ गया था लाइनमैन : रुठियाई क्षेत्र के जेई रविंद्र जैन ने कहा कि जांच में यह बात सामने आ रही है कि लाइनमैन गलत खंभे पर चढ़ गया था। उसे दूसरी लाइन का परमिट दिया गया था। पुलिस ने दोनों के मोबाइल अपने कब्जे में ले लिए हैं। इसके बाद ही सच्चाई सामने आएगी।

ढाई घंटे तक लटका रहा शव: घर का इकलौता कमाऊ लड़का सुपरवाइजर की लापरवाही की भेंट चढ़ा पर कंपनी के अधिकारी पहुंचे तक नहीं

जांच:मोबाइल खाेलेगा परमिट का राज

बिजली कंपनी जेई का दावे पर जानकारों का कहना है कि यह संभव ही नहीं है कि लाइनमैन गलत लाइन पर चढ़ जाए। कभी भी ऐसी जगह पर अकेला एक कर्मचारी नहीं जाता है। कम से कम दो से तीन कर्मचारी एक साथ रहते हैं। इसके अलावा परमिट जारी करते वक्त सब कुछ तय होता है। पुलिस ने जो मोबाइल जब्त किए हैं उससे असलियत सामने आएगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना