• Hindi News
  • Madhya Pradesh
  • Guna
  • Guna - स्मैक से युवक की मौत, किससे खरीदता था एसपी को दिया सबूत, कार्रवाई कुछ भी नहीं
--Advertisement--

स्मैक से युवक की मौत, किससे खरीदता था एसपी को दिया सबूत, कार्रवाई कुछ भी नहीं

स्मैक के ओवर डोज से एक युवक की मौत हो गई। वह अपने ससुराल में रह रहा था। राघौगढ़ से इसे खरीदकर लाने के बाद इसका...

Dainik Bhaskar

Sep 12, 2018, 03:02 AM IST
Guna - स्मैक से युवक की मौत, किससे खरीदता था एसपी को दिया सबूत, कार्रवाई कुछ भी नहीं
स्मैक के ओवर डोज से एक युवक की मौत हो गई। वह अपने ससुराल में रह रहा था। राघौगढ़ से इसे खरीदकर लाने के बाद इसका इस्तेमाल किया। इसके बाद तबीयत बिगड़ी तो परिजनों ने निजी अस्पताल में भर्ती किया था। युवक की हरकतों पर परिजन लंबे समय से नजर रख रहे थे। वह किससे बात करता था और कहां से स्मैक खरीदकर लाता था। यह सब अड्डे पता कर लिए थे। 4 माह पहले एसपी को भी एक ऑडियो भेजी थी, इसमें कारोबार से जुड़े व्यक्ति से मृतक की बातचीत का जिक्र भी है, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। यही वजह है कि शहर के अलावा गांव, कस्बे में अवैध रूप से यह कारोबार चल रहा है।

चांचौड़ा के मृगवास निवासी 36 वर्षीय अमीन खान की स्मैक के ओवर डोज से मौत हो गई। युवक लंबे समय से नशे का आदी था। इस वजह से परिजनों ने उसे राघौगढ़ ब्लॉक के शेखपुर स्थित ससुराल भेज दिया था, ताकि वह इस लत से बच सके, लेकिन वहां भी उसे स्मैक मिलने लगी। युवक ने राघौगढ़, गेल, एनएफएल जैसे इलाकों में भी स्मैक बेचने वालों को तलाश लिया और उसने खरीदी शुरू कर दी। मृगवास में भी वह इस अवैध कारोबार से जुड़े लोगों के संपर्क में रहा। खुद तो पीता ही था, इसके साथ ही वह दूसरे लोगों को भी स्मैक दिलवाने लगा। परिजनों ने इसकी इस हरकत की ऑडियो मोबाइल में से निकाली और एसपी निमिष अग्रवाल को भिजवा दी, ताकि कार्रवाई की जा सके, लेकिन 4 माह में भी पुलिस ने कुछ नहीं किया।

स्मैक के आदी 15 लोग रोज पहुंच रहे इलाज कराने, 4 की जिंदगी खतरे में

आडियो में गोपाल से बात कर रहा है हर 4 दिन में 10 ग्राम माल बिकवा दूंगा

मृतक की वह ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई, जिसे परिजनों ने 4 से 5 माह पहले एसपी को भेजी थी। इसमें अमीन किसी गोपाल नामक व्यक्ति से बात कर रहा है। उससे कह रहा है कि माल है क्या, 10 ग्राम की जरूरत है। कारोबारी उसे कुंभराज क्षेत्र में ही बुला रहा है, लेकिन वह उसे भमावद पर बुलाने पर अड़ा है। कहता है कि 10 ग्राम 4 दिन में जरूरत पड़ेगी। पैसे भी मिल जाएंगे। यही ऑडियो एसपी के पास भेजी गई थी।

कहां-कहां बिकती है स्मैक

मृगवास : पुलिस चौकी से कुछ दूरी पर, नदी के पास, ईंट भट्टे के पास, वामन चौराहा, जोशी गली, पहला मोहल्ला आदि।

कुंभराज : 5 से ज्यादा जगहों पर। ग्राम अमल्या के पास भी इसका ठिकाना है।

राघौगढ़ : राघौगढ़ के अलावा गेल, विजयपुर क्षेत्र, रुठियाई में मध्यांचल बैंक के सामने।

गुना : कैंट और कोतवाली क्षेत्र में कई जगह स्मैक बेची जा रही है। इसमें खासकर कर्नलगंज, बूढ़े बालाजी चांदशाह वली रोड, घोसीपुरा, तलैया मोहल्ला, पायगा मोहल्ला सहित कई क्षेत्रों में यह कारोबार फैला हुआ है।

जिले में राजस्थान से आती है स्मैक

जिले में स्मैक का कारोबार गांव, गली, मोहल्ले में फैला हुआ है। जिले की सीमा से लगे राजस्थान के गांव से लोग आते हैं। जिले में इसे बेची जाती है। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक निमिष अग्रवाल का कहना है कि चार माह पहले आई शिकायत के बाद अमले को सक्रिय किया था, लेकिन आरोपी पकड़ में नहीं आए। इस तरह के कारोबार पर कार्रवाई की जाती रही है और आगे भी की जाएगी।

हर दिन 15 लोग इलाज कराने आते हैं

स्मैक एवं अन्य नशे की लत के शिकार प्रतिदिन 15 से ज्यादा लोग इलाज कराने अस्पताल आते हैं। यह वे लोग हैं, जिन्हें पैसे की कमी आने से स्मैक नहीं मिल रही है, इसलिए अब डॉक्टरों के पास पहुंच गए हैं।

4 युवकों का इलाज चल रहा है, जिंदगी खतरे में

जिला अस्पताल में ही 4 युवकों का इलाज चल रहा है। ये स्मैक के लत का शिकार हैं। इनकी जिंदगी खतरे में है।

ओवर डोज होता है मौत का कारण

मानसिक रोग विशेषज्ञ डॉ. आरएस भाटी बताते हैं कि नशे से आदमी की सोचने, समझने की क्षमता खत्म हो जाती है। स्मैक का ओवर डोज मौत का कारण होता है। आज कल इसे एविल इंजेक्शन भी लिया जा रहा है, यह ज्यादा खतरनाक होता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता खत्म हो जाती है, इसलिए परिजन बच्चों पर ध्यान रखें।

X
Guna - स्मैक से युवक की मौत, किससे खरीदता था एसपी को दिया सबूत, कार्रवाई कुछ भी नहीं
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..