Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Bank Robbers Unsuccessfully To Loot

4 ताले काट बैंक के स्ट्रांग रूम में घुसे, तिजाेरी काटते समय गैस खत्म तो भागे बदमाश

रात में नकद राशि रखी जाती है, लेकिन बैंक ने यहां पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए हैं।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 22, 2018, 09:02 AM IST

  • 4 ताले काट बैंक के स्ट्रांग रूम में घुसे, तिजाेरी काटते समय गैस खत्म तो भागे बदमाश

    गुना/आरोन.आरोन तहसील के बरखेड़ा हाट स्थित स्टेट बैंक की ब्रांच को बदमाशों ने निशाना बनाया। शनिवार-रविवार दरमियानी रात बदमाश बैंक के प्रथम तल पर लगे गेट को गैस कटर से काटकर अंदर घुसे। स्ट्रांग रूम तक पहुंचने के लिए उन्होंने 4 ताले तोड़ दिए लेकिन लॉकर कट पाता, इससे पहले ही कटर की गैस खत्म हो गई जिससे वे सारा सामान छोड़कर भाग निकले।


    इस बैंक में नकद राशि रखने के लिए व्यवस्था है, लेकिन सुरक्षा के नाम पर कोई इंतजाम नहीं है। आरोन मुख्यालय से 11 किमी दूर स्थित बरखेड़ा हाट कस्बे में एसबीआई बैंक की ब्रांच एक निजी बिल्डिंग में संचालित है। शनिवार शाम बैंक बंद कर स्टाफ चला गया था। तभी रात में बदमाशों ने इसे निशाना बनाया। आरोपी पास के ही एक भवन से सहारे बैंक के प्रथम तल पर पहुंचे। वहां पर लोहे का एक गेट लगा था। इसे उन्होंने गैस कटर से काट दिया। फिर सीढ़ी से सहारे नीचे उतरे। रिकॉर्ड रूम का ताला तोड़ा। इसके बाद लगातार 3 ताले तोड़कर स्ट्रांग रूम में जा पहुंचे। उन्होंने सब्बल से दीवार तोड़ी। फिर गैस कटर से इसे काटने लगे। इसका सूत ही तिजोरी (लॉकर) कट पाई थी कि कटर की गैस खत्म हो गई। कुछ उन्हें आहट भी सुनाई थी तो बदमाश डर की वजह से जिस रास्ते से आए थे, उसी से भाग निकले।

    सब पता था आरोपियों को इसलिए बिजली बंद कर कैमरे तोड़ दिए


    बदमाशों को बैंक के स्ट्रांग रूम में पहुंचने की पूरी स्थिति का पता था। इसलिए वह बड़े ही आसानी से वहां तक पहुंच गए। सबूत किसी को न मिले। इसलिए पहले बिजली बंद की, इसके बाद बड़े ही चालाकी से सीसीटीवी कैमरे तोड़ दिए। ताकि वह इसमें कैद न हो सकें।

    स्ट्रांग रूम में दो गैस सिलेंडर, हथौड़ा और सब्बल भी मिले


    आरोपी भागे तो अपने साथ लाए सारा सामान छोड़कर भाग निकले। ग्रामीणों ने बैंक के पीछे कुछ सामान पड़ा देखा तो इसकी सूचना मैनेजर दर्शन सिंह को दी। वह अमले के साथ बैंक पहुंचे। इसके बाद जैसे ही मेन गेट खोला तो अंदर का नाराज देख हैरान रह गए। क्योंकि सारा सामान बिखरा था और ताले टूटे पड़े थे। स्ट्रांग रूम में 4 फीट लंबा ऑक्सीजन सिलेंडर, एक छोटा एलपीजी सिलेंडर मिला। इसके अलावा हथौड़े, सब्बल और अन्य इंस्टूमेंट पड़े थे। इन सभी को पुलिस ने जब्त कर लिया।

    दो फिंगर प्रिंट भी मिले


    एफएसएल अधिकारी आरसी अहिरवार, फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट और स्पाइनर डॉग को लेकर भी पुलिस अधिकारी बैंक पहुंचे। हालांकि दो फिंगर प्रिंट मिले हैं। इससे रिकॉर्ड से मिलान किया जा रहा है। थाना प्रभारी जॉर्ज किस्कोटा ने बताया कि कोई ऐसा व्यक्ति वारदात में शामिल है, जिसे बैंक की पूरी भूगौलिक स्थिति का पता था।


    रात में नहीं सुरक्षा का इंतजाम
    बैंक में दिन में ही गार्ड रहता है। उसकी बंदूक भी स्ट्रांग रूम में रखी थी। रात में नकद राशि रखी जाती है, लेकिन बैंक ने यहां पर सुरक्षा के कोई इंतजाम नहीं किए हैं। जिले में कई ऐसी बैंक हैं, जहां सुरक्षा गार्ड तक नहीं है। जबकि गुना जिले में ही क्षेत्रीय प्रबंधक का बैठते हैं। इसके बाद भी सुरक्षा को लेकर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: Bank Robbers Unsuccessfully To Loot
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×