Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Bomb Did Not Break During Fireworks In The Procession

बारात में आतिशबाजी के दौरान नहीं फूटा बम, सुबह ब्लास्ट से चली गई बच्चे की रोशनी

मंगलवार रात बारात के दौरान आतिशबाजी ने एक पटाखे (बारूद के गोले) में आग लगाई लेकिन वह चला नहीं।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 08, 2018, 07:28 AM IST

बारात में आतिशबाजी के दौरान नहीं फूटा बम, सुबह ब्लास्ट से चली गई बच्चे की रोशनी

दतिया (ग्वालियर) .मंगलवार रात बारात के दौरान आतिशबाजी ने एक पटाखे (बारूद के गोले) में आग लगाई लेकिन वह चला नहीं। आतिशबाज ने उसे यूं ही छोड़ दिया। सुबह जब लड़की की विदा चल रही थी, उसी दौरान दो छोटे-छोटे बच्चों ने खेल-खेल में जैसे ही इस गोले में आग लगाई वह ब्लास्ट के साथ फट गया। धमाका इतना तेज था कि एक बच्चे की तो आंख की रोशनी चली गई। वहीं दूसरा साथी भी बुरी तरह से झुलस गया। दोनों बच्चों को गंभीर हालत में जिला अस्पताल रैफर किया गया है।

- जानकारी के अनुसार ग्राम सालोन बी में स्थित हरिजन मोहल्ले में मंगलवार को लक्ष्मीनारायण जाटव की पुत्री गीता की शादी थी। उनके घर ग्राम सिंधवारी से बारात आई थी। रात में बारात में जमकर आतिशबाजी हुई।

-इसी में से बारूद से भरा एक गोला रात में बिना चले विवाह स्थल के पास पड़ा रह गया। बुधवार को शाम चार बजे जब लक्ष्मीनारायण की बेटी की विदा हो रही थी। घर के अंदर और बाहर महिलाएं विदाई गीत गा रही थीं तभी गांव में रहने वाले दो सगे दोस्त (बच्चे) सुनील (7) पुत्र पहलवान जाटव और एसपी (8) पुत्र परशुराम जाटव खेलते हुए गोले के पास पहुंच गए और बारूद से भरे गोले को हाथ में उठा लिया।

- इसी बीच गोला फट गया और धमाके की आवाज के बीच बच्चों की चीख सुनाई देने लगी। महिलाएं और पुरुष दौड़ते हुए बच्चों के पास पहुंचे तो दोनों बच्चे लहुलूहान हो चुके थे। सात वर्षीय सुनील का चेहरा, हाथ और आंख जल गई। सुनील की आंख खराब हो गई।
- जबकि उसके साथी मित्र एसपी का पंजा बुरी तरह से जल गया। एक तरफ जहां बेटी की विदाई में महिलाएं आंसू बहा रही थीं तो दूसरी तरफ बच्चों के जख्मी होने से उनके परिजन आंसू बहा रहे थे। यह माहौल देखकर शादी समारोह में शामिल हुए रिश्तेदारों की आंखों भी भर आई थीं। बच्चों को तत्काल 108 से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया। यहां प्राथमिक उपचार के बाद 108 से ही जिला अस्पताल रैफर कर दिया गया।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×