--Advertisement--

शादी करवाने का झांसा देकर लाए बेटी, अपहरण कर 16 हजार में बेचा

शिवपुरी की एक महिला को उसके बेटे की शादी कराने का झांसा देकर दंपति उसे ग्वालियर ले आए।

Danik Bhaskar | Dec 27, 2017, 06:53 AM IST

ग्वालियर . शिवपुरी की एक महिला को उसके बेटे की शादी कराने का झांसा देकर दंपति उसे ग्वालियर ले आए। यहां पर बेटे की शादी तो नहीं हो पाई उल्टे दंपति ने महिला की नाबालिग बेटी का अपहरण कर लिया। महिला ने पड़ाव थाने में एफआईआर दर्ज करवाई थी। मामले का खुलासा तब हुआ, जब अपहृत अपने घर पहुंच गई। उसकी एक बेटी भी है। पुलिस ने बयान लिए तो पता चला कि अपहरण करने वालों ने उसे 16 हजार रुपए में बेच दिया था। इसके बाद उसे एक युवक के साथ रखा गया और वह एक बेटी की मां भी बन गई। वह जैसे-तैसे घर पहुंची और अपहरण के रैकेट का खुलासा हो गया। पुलिस ने नाबालिग को खरीदने और उसे रखने वाले 3 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। इनमें एक महिला भी शामिल है। एसपी ने पड़ाव पुलिस टीम को मामले का खुलासा करने पर 5000 का इनाम दिया है।


- एसपी डॉ. आशीष ने बताया, जून 2014 में शिवपुरी में रहने वाली एक महिला के घर पर दंपति पहुंचे थे। उन्होंने कहा कि वह दोनों आदिवासी हैं, उनकी नजर में अच्छी लड़की है, उससे उनके बेटे की शादी करवा देंगे।

- महिला झांसे में आ गई और दंपति के साथ लड़की देखने ग्वालियर आई। इस दौरान उसने अपनी बेटी को भी साथ ले लिया था। यहां पर फूलबाग पर इन्होंने लड़के के लिए लड़की को देखा। इसके बाद दंपति ने कहा कि उनका घर ग्वालियर के नजदीक है, यह दोनों लड़कियां घर जाकर खाना बना लेंगी, इसके बाद हम लोग चलेंगे।

- महिला ने कहा कि वह दोनों लड़कियाें को टेंपो में बैठाकर आती है। इस दौरान पुरुष शिवपुरी से आई महिला के साथ बैठा रहा और कुछ देर बाद वहां से चला गया। इसके बाद महिला ने अपनी बेटी को तलाश किया लेकिन वह नहीं मिली और न ही वह दंपति मिले, जो महिला को लड़की दिखाने के बहाने साथ लाए थे।

खरीदकर शादी करा दी थी, भागकर घर पहुंची
- 21 दिसंबर को पड़ाव थाने के टीआई संतोष सिंह यादव काे पता चला कि जिस किशोरी के अपहरण का मामला दर्ज किया गया था, वह अपने घर पहुंच गई है। पुलिस बयान लेने के लिए पहुंची तो उसने बताया कि रामकली आदिवासी और कृपाल सिंह ने उसका अपहरण किया था। इन दोनों ने उसे 16 हजार रुपए में ऊदलनाथ सपेरा निवासी टिकटौली, मुरैना को बेच दिया था।

- ऊदल ने बताया कि उसके साले भुटीना नाथ की शादी नहीं हो रही थी इसलिए लड़की को खरीदकर उसकी शादी करा दी थी। पुलिस ने भुटीना, रामकली और पिता राजेंद्र नाथ को गिरफ्तार कर लिया है। कृपाल सिंह और उसकी पत्नी रामकली की तलाश की जा रही है।