Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Husband Remarry And Arranged Man For First Wife

पहले तलाक लेकर की दूसरी शादी, फिर पहली के लिए रिश्ता ढूंढ किया कन्यादान

कारोबारी ने अपनी दूसरी पत्नी के साथ आकर पहली पत्नी का कन्यादान किया।

Bhaskar News | Last Modified - Jan 23, 2018, 07:32 AM IST

पहले तलाक लेकर की दूसरी शादी, फिर पहली के लिए रिश्ता ढूंढ किया कन्यादान

ग्वालियर. एक पति ने अपनी तलाकशुदा पत्नी के लिए न सिर्फ वर ढूंढ़ने में मदद की बल्कि खुद ही उसकी शादी कराई। अपनी दूसरी पत्नी के साथ जोड़े से मंडप में बैठकर पहली पत्नी का कन्यादान किया। कन्यादान के समय दोनों की आंखें भी उसी तरह नम थीं, जैसे वधू पक्ष की होती हैं।

मॉडर्न खयालात की बहू होने के कारण होता था विवाद
इस विवाह की कहानी किसी फिल्म की तरह है। दिल्ली निवासी एक कारोबारी का विवाह चार माह पहले स्थानीय युवती से हुआ था। मॉडर्न खयालात की बहू होने के कारण ससुराल पक्ष के लोगों से विवाद होना शुरू हो गए और चार महीने में ही क्लेश इतना बढ़ गया कि कारोबारी ने अपने परिवार की खुशी के लिए अपनी पत्नी को तलाक दे दिया, लेकिन इसके बाद भी उसका लगाव उससे कम नहीं हुआ। दोनों लगातार संपर्क में बने रहे। कुछ दिन बाद व्यवसायी ने दूसरी शादी कर ली।

पहली पत्नी को सलाह देने के बाद की शादी करवाने में मदद भी की

- इसके बाद उसने अपनी पहली पत्नी को न सिर्फ दूसरा विवाह करने की सलाह दी बल्कि इस काम में उसकी मदद भी की।

- काराेबारी की तलाकशुदा पत्नी श्री कृष्णायन देशी गौरक्षा शाला द्वारा ऋषिकेश में आयोजित यज्ञ में यजमान बनीं और वहां उसने महाराज जी से दूसरे विवाह के संबंध में बात की। महाराज जी ने जल्द ही विवाह का आशीर्वाद दिया।

- इसी दौरान उसकी बात मुंबई में रहने वाले कोलकाता निवासी एक युवक से चली। ये युवक एक मीडिया ग्रुप में काम करता है। उसने विवाह का प्रस्ताव स्वीकार कर लिया।

- सामाजिक कुरीतियों को पीछे छोड़ने वाला अनोखा विवाह वसंत पंचमी के अवसर पर शताब्दीपुरम क्षेत्र में श्री कृष्णायन देशी गौरक्षा शाला हरिद्वार उत्तराखंड के तत्वावधान में चल रहे 165 कुंडीय महायज्ञ में हुआ।

यह एक अनोखी पहल है
लालटिपारा गौशाला के अच्युतानंद महाराज ने बताया कि यहां एक कारोबारी ने अपनी तलाकशुदा पत्नी का कन्यादान किया। यह एक अनोखी पहल है। विवाह के लिए उन्होंने महाराज जी की अनुमति मांगी थी। उनकी अनुमति से ही यज्ञ के दौरान विवाह संपन्न हुआ।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: pehle talaq lekar ki dusri shaadi, fir pehli ke liye rishtaa dhundh kiyaa knyaadaan
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×