ग्वालियर

--Advertisement--

जान हथेली पर रख मछली पकड़ने में व्यस्त, पास में घूमता दिखा मगरमच्छों का झुंड

खूंखार मगरमच्छों से भरी जाधव सागर झील में जान जोखिम में डालकर मछुआरे मछलियों का शिकार कर रहे हैं।

Dainik Bhaskar

Jan 18, 2018, 04:49 AM IST
गरमच्छों से भरी इस झील में जान जोखिम में डालकर मछुआरे मछलियों का शिकार कर रहे हैं। गरमच्छों से भरी इस झील में जान जोखिम में डालकर मछुआरे मछलियों का शिकार कर रहे हैं।

शिवपुरी (ग्वालियर). खूंखार मगरमच्छों से भरी जाधव सागर झील में जान जोखिम में डालकर मछुआरे मछलियों का शिकार कर रहे हैं। बुधवार को इसी झील में 7 से 8 मगरमच्छों का एक झुंड दिख रहा था, जिससे चंद फीट की दूरी पर एक मछुआरा टयूब के सहारे मछलियां पकड़ रहा था। गंभीर बात ये है कि मगरमच्छों को भगाने के लिए यह मछुआरा सिर्फ दो चप्पलों के भरोसे था। क्योंकि उसका मानना था कि चप्पलों को फटकार कर वह मगरमच्छों को दूर भगा देता है। जैसे- जैसे पानी कम होगा और मगरमच्छ नजर आएंगे..

- जिस जगह पर यह मगरमच्छों का झुंड दिखा था, उस स्थान से महज कुछ ही दूरी पर एक युवक मछलियों का शिकार भी कर रहा था।

- इस झील में कुल 350 से ज्यादा मगरमच्छ हैं और अब झील में जैसे-जैसे पानी कम होगा, यह ज्यादा संख्या में नजर आएंगे।

- यहां अभी करीब 10 फीट के मगरमच्छ दिखाई दे रहे हैं,करीब 15 से 20 दिनों के बाद ही यहां 15 फीट के भी मगरमच्छों को आसानी से देखे जा सकेंगे।

- यह झील 21 बीघा में बनी है। इससे सटा हुआ माधव नेशनल पार्क है।

मगरमच्छ ने मुझे ऊपर उछाला और मैं कीचड़ में गिरा, जान बच गई
- जाधव सागर झील में मछलियों का शिकार कर रहे धर्मेंद्र बाथम ने भास्कर को बताया कि मगरमच्छ से डर तो लगता है। लेकिन क्या करूं पेट का सवाल है।

- करीब 15 साल पहले इसी जाधव सागर में उसे मगरमच्छ ने पकड़ लिया था। उससे जैसे- तैसे वह बच पाया।

- उसने बताया कि मगर पकड़ने के बाद सबसे पहले ऊपर की ओर उछलता है, उसने जैसे ही उछाला तो वो कीचड़ में गिर गया और बच गया।

चंद फीट की दूरी पर एक मछुआरा टयूब के सहारे मछलियां पकड़ रहा था। चंद फीट की दूरी पर एक मछुआरा टयूब के सहारे मछलियां पकड़ रहा था।
इसी झील में 7 से 8 मगरमच्छों का एक झुंड दिख रहा था, इसी झील में 7 से 8 मगरमच्छों का एक झुंड दिख रहा था,
इस झील में कुल 350 से ज्यादा मगरमच्छ हैं। इस झील में कुल 350 से ज्यादा मगरमच्छ हैं।
X
गरमच्छों से भरी इस झील में जान जोखिम में डालकर मछुआरे मछलियों का शिकार कर रहे हैं।गरमच्छों से भरी इस झील में जान जोखिम में डालकर मछुआरे मछलियों का शिकार कर रहे हैं।
चंद फीट की दूरी पर एक मछुआरा टयूब के सहारे मछलियां पकड़ रहा था।चंद फीट की दूरी पर एक मछुआरा टयूब के सहारे मछलियां पकड़ रहा था।
इसी झील में 7 से 8 मगरमच्छों का एक झुंड दिख रहा था,इसी झील में 7 से 8 मगरमच्छों का एक झुंड दिख रहा था,
इस झील में कुल 350 से ज्यादा मगरमच्छ हैं।इस झील में कुल 350 से ज्यादा मगरमच्छ हैं।
Click to listen..