--Advertisement--

स्कूलों में बैन करें ऑटो रिक्शा या उनमें दरवाजे लगाएं : हाईकोर्ट

स्कूली ऑटो पर जुर्माना लगाने से बच्चों की सुरक्षा नहीं होगी। यह स्थायी हल नहीं है।

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2017, 06:30 AM IST
Make auto rickshaws or doors in schools: High court

ग्वालियर. स्कूली ऑटो पर जुर्माना लगाने से बच्चों की सुरक्षा नहीं होगी। यह स्थायी हल नहीं है। इसके लिए मोटर व्हीकल एक्ट तथा केंद्रीय मोटर व्हीकल रूल्स में बदलाव कर स्कूलों में ऑटो प्रतिबंधित करें या उनमें स्थायी रूप से दरवाजे लगा कर केबिन बनाए जाएं। ताकि बच्चे ऑटो से बाहर न निकल सकें।

- यह आदेश हाईकोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ ने शुक्रवार को दिया। जस्टिस शील नागू व जस्टिस एके जोशी की डिवीजन बेंच ने ऑटो में ज्यादा स्कूली बच्चे बैठाने के खिलाफ दायर अवमानना याचिका की सुनवाई की।

- इसमें कोर्ट ने कहा कि पुलिस और प्रशासन स्कूली ऑटो की लगातार जांच करें। साथ ही सभी जिलों के सीजेएम हर दो माह में स्कूली ऑटो की जांच कर कार्रवाई करें। इसकी रिपोर्ट हाईकोर्ट के प्रिंसिपल रजिस्ट्रार के कार्यालय में पेश की जाए। कोर्ट में याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता अवधेश सिंह भदौरिया ने पैरवी की।

X
Make auto rickshaws or doors in schools: High court
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..