--Advertisement--

फर्जी अंकसूची और दस्तावेज से पाई थी नौकरी, 6 संविदा शिक्षक बर्खास्त

2006, 2009 व 2011 में संविदा शाला शिक्षक भर्ती में हुई थी गड़बड़ी।

Danik Bhaskar | Apr 01, 2018, 08:23 AM IST
इससे पहले 49 शिक्षकों को पहले ही इससे पहले 49 शिक्षकों को पहले ही

भिंड. फर्जी दस्तावेजों से संविदा शाला शिक्षक बनने वाले छह शिक्षकों को जिला पंचायत सीईओ सपना निगम ने शनिवार को बर्खास्त कर दिया है। इससे पहले 49 शिक्षकों को पहले ही बाहर का रास्ता दिखाया जा चुका है। अब भिंड और अटेर जनपद में नौकरी कर रहे ऐसे संदिग्ध शिक्षकों पर जिला प्रशासन शिकंजा कसेगा। हालांकि प्रशासन के पास इनका कोई रिकाॅर्ड नहीं है।

2006, 2009 और 2011 में हुई थी भर्ती, 2014 में खुला मामला

- यहां बता दें कि जिले में 2006, 2009 और 2011 में हुई संविदा शाला शिक्षक भर्ती में बड़े स्तर पर गड़बड़ी हुई थी। 2014 में जब यह मामला खुला तो तत्कालीन कलेक्टर एम सिबि चक्रवर्ती ने मामले की जांच कराई। जिले में 73 शिक्षकों का भर्ती रिकार्ड संबंधित जनपद पंचायतों में नहीं मिला। वहीं यह मामला हाईकोर्ट तक पहुंच गया।

- इसके बाद प्रशासन ने शक के दायरे में इन शिक्षकों से उनके मूल दस्तावेज मांगे। साथ ही उनका वेरीफिकेशन कराया गया। इसमें 49 शिक्षक ऐसे मिले जिनके व्यापमं की अंकसूची का वेरीफिकेशन कराने पर वह किसी दूसरे परीक्षार्थी के नाम के निकले।