--Advertisement--

स्कूली बच्चों को राहत, पहली से आठवीं के स्कूलों में 9 तक छुट्टी, पारा 4.2 डिग्री

शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस रिकाॅर्ड हुआ। जो सामान्य से 1.8 डिग्री कम रहा।

Dainik Bhaskar

Jan 06, 2018, 07:26 AM IST
School closed upto Class 8th due to cold

ग्वालियर. शीत लहर के प्रकोप से पीड़ित शहर में पहली से लेकर 8वीं क्लास तक के स्कूली बच्चों को सरकार ने राहत दे दी है। स्कूली शिक्षा विभाग से मंजूरी मिलने के बाद कलेक्टर राहुल जैन ने शहर के ऐसे सभी सरकारी,गैर सरकारी स्कूलों में 6 जनवरी से लेकर 9 जनवरी तक छुट्टी घोषित कर दी है। इसके चलते पहली से लेकर 8वीं तक के सभी स्कूलों में मंगलवार तक अवकाश रहेगा।

वहीं शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस रिकाॅर्ड हुआ। जो सामान्य से 1.8 डिग्री कम रहा। जिला शिक्षा अधिकारी डॉ. आरएन नीखरा ने इसकी पुष्टि की है। कलेक्टर ने 3 जनवरी को 4 से 9 जनवरी तक प्राइमरी स्कूलों (कक्षा-5 तक) में की छुट्टी का प्रस्ताव प्रमुख सचिव स्कूल शिक्षा के पास भेजा था।

दो साल बाद फिर बदली व्यवस्था

स्कूल शिक्षा विभाग ने मौसम खराब होने या तापमान अधिक गिरने की स्थिति में स्कूलों में छुट्टियों घोषित करने का जिम्मा एक बार फिर जिला कलेक्टर को सौंंप दिया है। इसी के बाद कलेक्टर राहुल जैन ने जिले के प्राइमरी आैर मिडिल स्कूलों में 9 जनवरी तक छुट्टियां घोषित करने का आदेश जारी किया है। याद रहे 27 जनवरी 2015 में स्कूल शिक्षा विभाग ने कलेक्टरों द्वारा स्कूलों में छुट्टी घोषित करने का फैसला लेने पर आपत्ति जताते हुए अवकाश की घोषणा विभागीय स्तर पर करने की व्यवस्था लागू की थी।

शहर में शिमला जैसी सर्दी, चली शीतलहर रात का पारा 4.2 डिग्री पर पहुंचा

कश्मीर और हिमाचल से आ रही बर्फीली हवा ने शुक्रवार को भी शहरवासियों को कंपाया। शहर में दो दिन से शिमला की तरह सर्दी पड़ रही है। एक दिन पहले तो ग्वालियर, शिमला से ज्यादा ठंडा था। शुक्रवार को शिमला का जहां न्यूनतम तापमान 3 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड हुआ। वहीं शहर का न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री सेल्सियस रिकाॅर्ड हुआ। मौसम विभाग के अनुसार, अगले तीन दिन तक अभी सर्दी से राहत की मिलने की उम्मीद नहीं है। हालांकि घने कोहरे की मार से लोगों को राहत मिल चुकी है। लेकिन गलन वाली सर्दी अभी भी जारी है। 5 साल बाद जनवरी में इतनी ठंड पड़ रही है। शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 2.3 डिग्री सेल्सियस बढ़त के साथ 4.2 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 1.8 डिग्री कम रहा। कड़ाके की सर्दी से सबसे अधिक स्कूली बच्चे परेशान हैं।

6 घंटे 11 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा तापमान
शुक्रवार को सुबह 5:30 बजे से लेकर 10 बजे तक 11 डिग्री सेल्सियस के नीचे पारा रहा। सुबह उत्तर से आने वाली सर्द हवा भी चलती रही। इससे धूप में भी गलन वाली सर्दी से राहत नहीं मिल सकी। छत पर रखीं टंकियों का पानी बर्फ की तरह ठंडा हो गया है। सूरज ढलते ही सर्द हवा के आगोश में फिर से शहर आ गया। हालांकि रात में कई जगह लोग अलाव तापते हुए नजर आए। पिछले दिन की तुलना में अधिकतम तापमान 0.9 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 22.4 डिग्री दर्ज किया गया। यह सामान्य से 0.1 डिग्री अधिक रहा। सुबह की आर्द्रता 91 फीसदी रही। यह सामान्य से 16 फीसदी अधिक रही। शाम की आर्द्रता 68 फीसदी रही। यह सामान्य से 18 फीसदी अधिक रही।

आगे क्या: मौसम वैज्ञानिक उमाशंकर चौकसे के मुताबिक, उत्तरी हवा आने के कारण सर्दी का असर है। अगले 24 घंटे के दौरान न्यूनतम तापमान में मामूली बढ़त की संभावना है।

X
School closed upto Class 8th due to cold
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..