Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» Truck Accident Near Toll Plaza One Died

दुल्हन को विदा कराकर लौट रही थी बारात, ट्रक की टक्कर से खुशियां मातम में बदली

ग्वालियर-डबरा बायपास पर टोल प्लाजा के पास बारात से लौट रही कार रॉन्ग साइड में तेज गति से आ रहे ट्रक से टकरा गई।

Bhaskar News | Last Modified - Feb 08, 2018, 07:41 AM IST

  • दुल्हन को विदा कराकर लौट रही थी बारात, ट्रक की टक्कर से खुशियां मातम में बदली
    +2और स्लाइड देखें

    ग्वालियर .ग्वालियर-डबरा बायपास पर टोल प्लाजा के पास बारात से लौट रही कार रॉन्ग साइड में तेज गति से आ रहे ट्रक से टकरा गई। जब ट्रक ने सामने से टक्कर मारी तो पीछे से आ रही दूसरी कार भी टकराई। बारातियों से भरी कार बीच में फंस गई। इसमें सवार दूल्हे के ताऊ की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि अन्य चार रिश्तेदार गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। चार में से तीन की हालत गंभीर है। डबरा के सिरसा गांव के रहने वाले रिटायर्ड टीआई रामकृष्ण गुर्जर के बेटे अरविंद की शादी मंगलवार को थी। उसकी बारात शनिदेव मंदिर के पास स्थित रंचोली गांव गई थी।

    - विदा होने के बाद बुधवार शाम बारात करीब 20 चार पहिया वाहनों में सवार होकर लौट रही थी। रामकृष्ण के बड़े भाई हरिकंठ सिंह गुर्जर (72) अपने बेटे सुरेन्द्र सिंह गुर्जर की स्विफ्ट कार में सवार थे। सुरेन्द्र गाड़ी चला रहा था।

    - इस कार में इनके रिश्तेदार पंचम सिंह निवासी सलूपुरा (65), पूर्व सरपंच रूप सिंह (70) निवासी ग्राम सुनवई, देवी सिंह (75) निवासी ग्राम इकोना भी सवार थे। ग्वालियर-डबरा बायपास से पहले से जब इनकी कार गुजर रही थी तो अचानक सामने से रॉन्ग साइड ट्रक क्रमांक एमपी 07 जीए 2135 आ गया।

    - ट्रक ने सामने से टक्कर मारी। इसी बीच पीछे से आ रही अर्टिगा कार क्रमांक एमपी 07 सीडी 2103 इस कार में भिड़ गई। इससे कार का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त होकर ट्रक में फंस गया। हरिकंठ के भतीजे रामेन्द्र गुर्जर ने बताया, बारात में गईं दूसरी कारें भी पीछे से आ रही थीं।

    - जैसे ही टक्कर हुई तो तत्काल गाड़ियां रोकीं। इसके बाद इन लोगों को कड़ी मशक्कत के बाद बाहर निकाला, क्योंकि टक्कर इतनी तेज थी कि यह लोग कार में फंसे हुए थे। तब तक वहां पुलिस भी पहुंच गई। इन्हें लेकर अस्पताल पहुंचे। हरिकंठ को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। अन्य लोगों की हालत भी नाजुक है। ट्रक चालक भाग निकला। गाड़ी चला रहा सुरेन्द्र गंभीर रूप से घायल है। वह बार-बार उठने की कोशिश कर रहा था और एक ही रट लगाए था कि पापा कैसे हैं, बाकी सब कैसे हैं। किसी को कुछ हुआ तो नहीं।

    हर तरफ थीं खुशियां, पल भर में छा गया मातम
    जिस घर में सुबह तक खुशियां ही खुशियां थी। हर कोई नई बहू के आगमन के लिए तैयारी कर रहा था। फेरों में देर होने की वजह से बुधवार को विदाई देर से हो पाई। इसके चलते बारात वापस लौटने में शाम हो गई। घर से बार-बार यही फोन आ रहा था कि नई बहू के स्वागत के लिए सभी तैयारियां पूरी हो गई हैं। इसी बीच यह हादसा हो गया और पल भर में मातम छा गया। हरिकंठ को अपने भतीजे की शादी का बहुत उत्साह था। घुटनों में परेशानी होने के बाद भी वह नाचे। यह कहते-कहते उनके छोटे भाई रामकृष्ण गुर्जर की आंखें नम हो गईं।

  • दुल्हन को विदा कराकर लौट रही थी बारात, ट्रक की टक्कर से खुशियां मातम में बदली
    +2और स्लाइड देखें
  • दुल्हन को विदा कराकर लौट रही थी बारात, ट्रक की टक्कर से खुशियां मातम में बदली
    +2और स्लाइड देखें
आगे की स्लाइड्स देखने के लिए क्लिक करें
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×