--Advertisement--

स्पीड में ओवरटेक कर रहे थे 2 ट्रक, ऑटो में मारी टक्कर तो उछलकर गिरा ऑटो

ओवर स्पीडिंग की वजह से फिर हादसा, ऑटो ड्राइवर व 1 युवक भी घायल

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2018, 07:00 AM IST
हादसे में 6 बच्चे घायल हुए। हादसे में 6 बच्चे घायल हुए।

ग्वालियर. शिवपुरी लिंक रोड पर बुधवार की सुबह ऑटो से स्कूल जा रहे बच्चों को तेज रफ्तार ट्रक ने टक्कर मार दी। ऑटो पलटकर डिवाइडर पर चढ़ गया। इसमें बैठे 6 बच्चे, एक युवक तथा ड्राइवर घायल हो गए। हादसा सुबह 8.30 बजे तेज रफ्तार ट्रक द्वारा ओवरटेक करने के चक्कर में हुआ। घायल बच्चों की उम्र 5 से 9 साल है। राहगीरों ने बच्चों को निकाला। शिवपुरी-लिंक रोड पर एक साल में तीसरी बार वाहनों की तेज रफ्तार बच्चों के लिए आफत बनी है। हादसे के बाद सबसे पहले पुलिस का फर्स्ट रिस्पांस व्हीकल पहुंचा और बच्चों को अस्पताल पहुंचाया।

हादसे में एक बच्चे का हाथ टूट गया जबकि छात्रा की आंख के नीचे चोट आई है, उसकी आंख बाल-बाल बची। हादसे के 2 घंटे बाद भी अस्पताल में बच्चे सहमे हुए थे। हादसे में घायल युवक सवारी था, जिसे ऑटो चालक ने बैठा लिया था। जबकि नियम के अनुसार स्कूल वाहन में सवारी नहीं बैठाई जा सकती। स्कूली वाहन पलटने की सूचना मिलते ही एएसपी अभिषेक तिवारी सहित पुलिस पहुंच गई और ट्रक को जब्त कर मामले जांच शुरू कर दी। हादसे के बाद ड्राइवर ट्रक क्रमांक एमपी 06एचसी 4427 छोड़कर भाग निकला। कंपू इलाके में स्थित नौगांव के बच्चे सेंट जॉर्ज स्कूल आर्मी की बजरिया में पढ़ते हैं। बुधवार की सुबह बच्चे ऑटाे एमपी 07 आर 3917 से स्कूल के लिए रवाना हुए।

बच्चों की सुरक्षा को लेकर कलेक्टर राहुल जैन ने नवंबर और इसके बाद 12 जनवरी को हुई बैठक में आदेश दिए थे कि स्कूल प्रबंधन की जिम्मेदारी बच्चों को घर से स्कूल और स्कूल से घर तक सुरक्षित पहुंचाने की होगी। 2 बार निर्देश के बावजूद स्कूल प्रबंधन ने रिपोर्ट नहीं सौंपी। डीईओ का कहना है ऐसे स्कूल के खिलाफ शीघ्र कार्रवाई करेंगे।

ऑटो में बातें करते हुए जा रहे थे, अचानक जोर का धक्का लगा और ऑटो पलट गया
हम सभी नौगांव के रहने वाले हैं। इसी ऑटो में आपस में बातें करते और खूब हंसते हुए रोज स्कूल जाते हैं। बुधवार को भी घर से स्कूल के लिए निकले थे। आज घर से निकलने के कुछ देर बाद ही ऑटो में पीछे से जोर का धक्का लगा, इसके बाद संभलने का मौका ही नहीं मिला। ऑटो पलट गया। सभी बच्चे एक-दूसरे के ऊपर गिर पड़े। हम लोग घबरा गए थे, रोने लगे। मेरा छोटा भाई पुष्पेंद्र भी साथ था। वह जोर-जोर से रो रहा था। कुछ बच्चे उचटकर बाहर निकल गए थे तो कुछ ऑटो में ही फंस गए। लोगों ने ऑटो सीधा करके हमें निकाला। अंकल, हमें बहुत डर लग रहा है और तेज दर्द भी हो रहा है। -जैसा घायल छात्रा पिंकी ने भास्कर को बताया

ट्रक की टक्कर से डिवाइडर पर चढ़ा क्षतिग्रस्त ऑटो। ट्रक की टक्कर से डिवाइडर पर चढ़ा क्षतिग्रस्त ऑटो।
हादसे में घायल छात्र प्रवीण। हादसे में घायल छात्र प्रवीण।
घायल कालेंद्र सिंह गुर्जर जो ऑटो में बैठा था। घायल कालेंद्र सिंह गुर्जर जो ऑटो में बैठा था।
X
हादसे में 6 बच्चे घायल हुए।हादसे में 6 बच्चे घायल हुए।
ट्रक की टक्कर से डिवाइडर पर चढ़ा क्षतिग्रस्त ऑटो।ट्रक की टक्कर से डिवाइडर पर चढ़ा क्षतिग्रस्त ऑटो।
हादसे में घायल छात्र प्रवीण।हादसे में घायल छात्र प्रवीण।
घायल कालेंद्र सिंह गुर्जर जो ऑटो में बैठा था।घायल कालेंद्र सिंह गुर्जर जो ऑटो में बैठा था।
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..