Hindi News »Madhya Pradesh News »Gwalior News» Zero Number In BCA Will Be Ruined Future Said Student

BCA में जीरो नंबर देने पर कंट्रोलर के सामने रोई स्टूडेंट, कहा फ्यूचर हो जाएगा बर्बाद

Bhaskar News | Last Modified - Dec 30, 2017, 08:31 AM IST

छात्रा दीक्षा शर्मा शुक्रवार को परीक्षा नियंत्रक डॉ. राकेश कुशवाह के सामने फूट-फूटकर रोई।

ग्वालियर.गांधी वोकेशनल कॉलेज गुना से बीसीए करने वाली छात्रा दीक्षा शर्मा शुक्रवार को परीक्षा नियंत्रक डॉ. राकेश कुशवाह के सामने फूट-फूटकर रोई। छात्रा का कहना था कि बीसीए के छठवें सेमेस्टर तक की परीक्षा में उसके 75 प्रतिशत अंक आए। फिर भी बीसीए फोर्थ सेमेस्टर डिफरेंशियल इक्वेशन के पेपर में उसे जीरो नंबर दे दिए गए। छात्रा का आरोप था कि जिस परीक्षा को उसने दिया था, उसमें विदहेल्ड दिखाया गया। अब जांच में कहा जा रहा है कि जीरो नंबर आए हैं।

- इस दौरान छात्रा ने परीक्षा नियंत्रक के सामने रोते हुए कहा कि बीसीए एटीकेटी की परीक्षा में पास होने की आस में उसने देवी अहिल्याबाई विवि इंदौर में एमबीए में एडमिशन ले लिया है। 25 हजार रुपए फीस जमा कर दी है। अब एमबीए की परीक्षा होने वाली है। यदि बीसीए की पास की मार्कशीट नहीं दी गई तो उसकी साल बर्बाद हो जाएगी।
- छात्रा का आरोप ओल्ड कोर्स से परीक्षा दी, न्यू कोर्स के छात्रों के साथ जंचवाई कॉपी: छात्रा दीक्षा शर्मा का कहना था कि उसने ओल्ड कोर्स के तहत बीसीए फोर्थ सेमेस्टर एटीकेटी की परीक्षा दी थी। उसके साथ कुछ छात्रों ने न्यू कोर्स की परीक्षा दी। ऐसे छात्रों के साथ उसकी उत्तर पुस्तिका का मूल्यांकन करा दिया गया। इसी के चलते उसे फेल किया गया है। इसलिए उसकी कॉपी फिर से जंचवाई जाए। वहीं परीक्षा नियंत्रक डॉ. राकेश कुशवाह का कहना था कि उन्होंने कॉपी दिखवाई है, जिसमें छात्रा ने प्रश्नों के अनुरूप उत्तर नहीं लिखा इसलिए उसे जीरो नंबर दिए गए हैं।

बीसीए छात्रों को पढ़ाया ओल्ड कोर्स, परीक्षा न्यू कोर्स से होगी
- जेयू से संबद्ध कॉलेजों से बीसीए करने वाले छात्रों को ओल्ड कोर्स सिलेबस से पढ़ाने का मामला सामने आया है। इसकी शिकायत शुक्रवार को निजी कॉलेजों के कुछ प्रोफेसरों ने परीक्षा नियंत्रक डॉ. राकेश कुशवाह से की। प्रोफेसरों ने बताया कि सत्र 2016-17 में एडमिशन लेने वाले बीसीए छात्र थर्ड सेमेस्टर में पहुंच गए हैं। जेयू में ऐसे छात्रों का सिलेबस अपलोड नहीं था इसलिए उन्होंने ओल्ड कोर्स के अनुसार पढ़ाया है। इसलिए ओल्ड कोर्स के अनुसार बीसीए थर्ड सेमेस्टर की परीक्षा कराई जाए। परीक्षा नियंत्रक का कहना था कि वह एकेडमिक विभाग से इसकी जानकारी लेंगे तभी कुछ कह पाएंगे।

- पोर्टल की लिंक नहीं खुलने से एमबीबीएस छात्र फाॅर्म भरने से चूके: एमबीबीएस फाइनल पार्ट वन के छात्रों ने शुक्रवार को परीक्षा नियंत्रक डॉ. राकेश कुशवाह से कहा कि एमपी ऑनलाइन का सर्वर डाउन होने के कारण वे परीक्षा फॉर्म अब तक नहीं भर सके हैं इसलिए परीक्षा की तारीख बढ़ाई जाए। छात्रों का कहना था कि परीक्षा फॉर्म भरने व परीक्षा कराने के बीच कम से कम 20 दिन का अंतर होना चाहिए। इस पर परीक्षा नियंत्रक ने कहा कि जीआरएमसी के डीन से अभिमत लिखवाकर लाओ तभी वह परीक्षा फाॅर्म भरने व परीक्षा की तारीख में बदलाव करेंगे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए Gwalior News in Hindi सबसे पहले दैनिक भास्कर पर | Hindi Samachar अपने मोबाइल पर पढ़ने के लिए डाउनलोड करें Hindi News App, या फिर 2G नेटवर्क के लिए हमारा Dainik Bhaskar Lite App.
Web Title: BCA mein jiro number dene par kntrolr ke samne roee student, khaa fyuchr ho jaaegaaa brbaad
(News in Hindi from Dainik Bhaskar)

Stories You May be Interested in

      More From Gwalior

        Trending

        Live Hindi News

        0
        ×