• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • त्योहार पर गरीबों को नहीं मिल रहा उचित मूल्य का राशन
--Advertisement--

त्योहार पर गरीबों को नहीं मिल रहा उचित मूल्य का राशन

होली के त्योहार पर जहां अधिकतर पीडीएस की दुकानों पर गरीबों को राशन वितरित किया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ आलमपुर...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 03:10 AM IST
होली के त्योहार पर जहां अधिकतर पीडीएस की दुकानों पर गरीबों को राशन वितरित किया जा रहा है, वहीं दूसरी तरफ आलमपुर कस्बे में महाते चौराहे पर आजीमा उपभोक्ता भंडार पर पिछले 2 माह से राशन नहीं बांटा गया है। राशन प्राप्त करने के लिए क्षेत्र के करीब एक हजार उपभोक्ता हर रोज पीडीएस दुकान के चक्कर काट रहे हैं, मगर गरीबों को राशन नहीं मिल सका है। मजबूरन लोगों को निजी दुकानों से अधिक रुपए देकर घर का राशन खरीदना पड़ रहा है। इस संबंध में जब दुकान संचालक से पूछा गया तो उन्होंने साफ शब्दों में बोल दिया कि अभी किसी प्रकार का राशन नहीं बांटा जाएगा।

दो माह से नहीं बांटा गया राशन: उचित मूल्य की दुकान पर दो माह से राशन नहीं बांटा गया है। लोगों कहना है कि दुकान संचालक विपिन बंसल द्वारा बिना सूचना के दुकान खोलकर खास लोगों को राशन वितरित कर दिया जाता है। जबकि राशन वितरण की सूचना मिलते ही जब अन्य लोग दुकान पर राशन लेने पहुंचते हैं तो दुकान बंद कर दी जाती है। यह अनियमितता पिछले दो महीने से बरती जा रही है, जिसके कारण गरीबों को सरकारी राशन प्राप्त नहीं हो रहा है। पीडीएस की दुकान पर गरीबी रेखा वाले कार्ड पर गेहूं, शक्कर, नमक, चावल और केरोसिन बांटी जाती है जो गरीबों के घरों में रसोई तक नहीं पहुंच रहा है।

आलमपुर में महाते चौराहे पर संचालित आजीमा उपभोक्ता भंडार पर नहीं बांटा गया राशन, उपभोक्ता हो रहे परेशान

25 किलो गेहूं तौलने पर निकलता है सिर्फ 20 किलो

उचित मूल्य की खाद्यान्न दुकानों पर प्रति परिवार को सदस्य के अनुसार राशन का भुगतान किया जाता है। लेकिन देखा गया है कि दुकानों पर राशन तौलते समय कर्मचारी हेराफेरी कर देते हैं। कार्ड पर पांच सदस्यीय परिवार को 25 किलो गेहूं तौलने हैं तो दुकान के कर्मचारी हाथ तराजू से राशन तौलकर 5 किलो तक तौल घटा देते हैं। इसके साथ ही कम लीटर वाले पात्र से केरोसिन का वितरण किया जाता है। उपभोक्ताओं का आरोप है कि दुकान संचालक द्वारा राशन में हेराफेरी की जाती है।

महीनों से राशन नहीं मिल रहा


राशन देने से मना कर दिया


अभी राशन नहीं मिलेगा


हम दिखवाते हैं मामला