• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • कलियुग केवल नाम अधारा: राघवदास
--Advertisement--

कलियुग केवल नाम अधारा: राघवदास

फूप | कलियुग केवल नाम अधारा। सुमिर सुमिर नर उताराहि ही पारा। कलियुग में केवल भगवान का नाम जपने मात्र से ही भगवान की...

Danik Bhaskar | Mar 02, 2018, 03:10 AM IST
फूप | कलियुग केवल नाम अधारा। सुमिर सुमिर नर उताराहि ही पारा। कलियुग में केवल भगवान का नाम जपने मात्र से ही भगवान की प्राप्ति हो जाती है। इसलिए भगवान के नाम का सुमिरन कभी मत छोड़ो। क्योंकि चलते-फिरते काम करते वक्त भगवान का नाम लेने से जीव की मुक्ति हो जाती है। यह कथा अटेर के सांगली गांव में चल रहे श्रीमद् भागवत में पंडित राघवदास महाराज ने भक्तों से कही। महाराज ने बताया कलयुग में पाप अधिक और पुण्य कम होता जा रहा है। ऐसे में मनुष्य को अपनी मुक्ति करनी है तो केवल ईश्वर नाम का जप करते रहना चाहिए। महाराज ने आगे बताया जब हमें कष्ट होता है तो सबसे पहले मां का नाम आता है, उसी प्रकार भक्त के जीवन में विपदा आने पर भगवान को चिंता होती है। परंतु व्यक्ति कई बार सुख के घेरे में पहुंचकर भगवान को ही भुला बैठता है जो बाद में उसके पतन का कारण बनता है।