Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» 3 दिन में सिमट गया स्वच्छता अभियान कस्बे में 5 दिन से नहीं उठाया जा रहा कचरा

3 दिन में सिमट गया स्वच्छता अभियान कस्बे में 5 दिन से नहीं उठाया जा रहा कचरा

स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 की रैंकिंग में सुधार लाने के लिए कस्बे में नगर परिषद द्वारा शुरू की गई मुहिम ठंडी पड़ने लगी...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:00 AM IST

स्वच्छता सर्वेक्षण-2018 की रैंकिंग में सुधार लाने के लिए कस्बे में नगर परिषद द्वारा शुरू की गई मुहिम ठंडी पड़ने लगी है। कस्बे में 5 दिन से कचरा नहीं उठाया जा रहा है। कई जगह कचरे से ढेर स्वच्छता अभियान को आइना दिखा रहे हैं। मानीटरिंग के अभाव में सफाई कर्मियों के साथ ही आम लोग भी लापरवाही बरत रहे हैं। दुकानों और घरों से निकलने वाला कचरा खुले में सड़क पर फेंका जा रहा है। जबकि कस्बे में परिषद द्वारा जगह जगह कचरा पात्र रखे गए है। दुकानदारों को भी डस्टबिन उपलब्ध कराए हैं। इसके बावजूद कचरा सड़क पर खुले में फेंका जा रहा है।

नप द्वारा चलाया जा रहा स्वच्छता अभियान 26 जनवरी के बाद पटरी से उतरता नजर आ रहा है। कस्बे में सार्वजनिक स्थानों पर दिन में तीन बार सफाई नहीं हो रही है। वार्डों में घर-घर कचरा संग्रह के लिए ई-रिक्शा समय पर नहीं पहुंच रहे हैं। आलम यह है कि कस्बे के राजा साहब के दरबार मैदान पर पांच दिन से कचरे का ढेर पड़ा है। कई लोगों का कहना है कि नगर परिषद के स्वच्छता अभियान प्रभारी को सूचना देने के बाद भी मौके से कचरा नहीं उठाया गया है। जिससे गंदगी फैल रही है। हवा के साथ उड़ कर कचरा घरों में पहुंच रहा है। लोगों का कहना है कि नगर परिषद प्रशासन ने शुरुआत में चार -पांच दिन जोर शोर से अभियान चलाया था। लेकिन गणतंत्र दिवस के बाद जनप्रतिनिधियों के ढीले पड़ते ही एक बार फिर से कस्बे में गंदगी के ढेर नजर आने लगे हैं। कस्बे को साफ और स्वच्छ रखने के नप प्रशासन के दावे हकीकत के धरातल पर दम तोड़ते नजर आ रहे हैं।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×