• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • क्वारी नदी के किनारे गड्ढे खोदकर जेसीबी से रेत निकाल रहा माफिया, कार्रवाई नहीं
--Advertisement--

क्वारी नदी के किनारे गड्ढे खोदकर जेसीबी से रेत निकाल रहा माफिया, कार्रवाई नहीं

क्वारी नदी से निकाले गए रेत का इस तरह लगा रखा है ढेर। बेखौफ रहते हैं रेत माफिया क्वारी घाट पर चल रहे रेत के...

Danik Bhaskar | Mar 01, 2018, 03:30 AM IST
क्वारी नदी से निकाले गए रेत का इस तरह लगा रखा है ढेर।

बेखौफ रहते हैं रेत माफिया

क्वारी घाट पर चल रहे रेत के अवैध उत्खनन को लेकर आसपास के गांवों में रहने वाले लोग पुलिस प्रशासन के साथ राजस्व अधिकारियों को भी अवगत करा चुके हैं। नदी में गहरे गड्ढे कर दिए गए हैं, जिसकी भनक पुलिस और राजस्व विभाग के अधिकारियों को बखूबी है। लेकिन माफियाओं के खिलाफ अभी तक ठोस कार्रवाई नहीं की गई है। जिसकी वजह से नदी में रेत उत्खनन दिनों दिन बढ़ता जा रहा है। बिना अनुमति के चल रहे उत्खनन को रोकने के लिए लोग कई बार शिकायत कर चुके हैं। खास बात यह है कि शिकायत होने पर माफियाओं को पुलिस के आने की सूचना पहले से लग जाती है और माफिया अपने-अपने वाहन लेकर भाग निकलते हैं।

उत्खनन: ऐसे निकाल रहे नदी से रेत

नदी में बरसात के दिनों में पानी के साथ बहाव में आया रेत नदी के गड्‌ढों में जमा हो जाता है। जैसे ही नदी में पानी सूखने लगा माफिया रेत निकालने के लिए नदी की तरफ बढ़ने लगे। जिन गड्‌ढों में रेत एकत्रित हुआ है, उनमें अब माफिया जेसीबी और फावड़ों से रेत निकालने में लगे हुए हैं। हर रोज नदी से दो दर्जन ट्रैक्टर-ट्रॉली रेत के भरे निकाले जाते हैं। यही गड्‌ढे बरसात के दिनों में लोगों के लिए मुसीबत पैदा करते हैं। खास बात यह है कि प्रशासन को क्वारी नदी में चल रहे रेत उत्खनन की भनक है, उसके बावजूद माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई नहीं की जाती है।

तीन घाटों पर चल रहा उत्खनन, कार्रवाई से पहले लग जाती है भनक

क्वारी नदी में सबसे अधिक रेत का उत्खनन सिमराव, कमई और मिहोनी के जनोरा घाट पर चल रहा है। इसके अलावा सिमराव घाट पर माफिया जेसीबी से रेत निकाल रहे हैं। गौरतलब है कि अगर कोई व्यक्ति इनके खिलाफ किसी भी प्रकार की शिकायत करता है तो माफिया उन्हें खौप दिखाकर धमकाते हैं। पूर्व में पुलिस ने क्वारी नदी के घाटों पर उत्खनन रोकने के लिए कार्रवाई की थी। लेकिन रेत माफियाओं को इसकी भनक पहले से ही लग जाती है। क्वारी नदी के रेत से भरी खेप गांवों में हो रहे कार्यों में खपाई जा रही है। जिसकी जांच कभी नहीं की जाती है।

नदी में जगह-जगह खोदे गड्ढ़े

रेत माफियाओं ने क्वारी नदी में रेत निकालने के लिए जेसीबी और फावड़ा से गहरे गड्ढे कर दिए हैं। माफिया सुबह से रेत निकालने के लिए नदी में खुदाई शुरू कर देते हैं। जिसके कारण नदी व पार पर बड़े गड्ढे बना दिए हैं। बरसात के दिनों में नदी में अधिक पानी आने के कारण कई बार लोग नदी पार करते समय इन गड्ढों में फसकर अपनी जान गंवा देते हैं। जबकि जनोरा घाट पर हुए गड्ढों से फूफ के लिए जाने वाला रास्ता बंद हो जाता है। सुबह से खुदाई के बाद निकाले गए रेत को ट्रैक्टर-ट्रॉलियों में भरकर रात के अंधेरे में निकाल दिया जाता है।

हम कार्रवाई करेंगे