• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • लेक्चर की जगह महिला किसानों की पिकनिक और फोटो सेशन
--Advertisement--

लेक्चर की जगह महिला किसानों की पिकनिक और फोटो सेशन

Gwalior News - ग्वालियर

Dainik Bhaskar

Mar 01, 2018, 02:05 AM IST
लेक्चर की जगह महिला किसानों की पिकनिक और फोटो सेशन
ग्वालियर
भिण्ड से दो कारों में लाई गई महिला किसानों के साथ वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी (एसएडीओ) राकेश शर्मा व ग्रामीण कृषि विस्तार अधिकारी (आरएईओ ) अनूप दुबे थे। यहां से इन्हें एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी ले जाया गया। कुछ देर बाद कृषि विज्ञान केंद्र के साइंटिस्ट राज सिंह कुशवाह वहां पहुंचे और महिला किसानों को परिसर में स्थापित फॉर्म हाउस में लेकर गए।

साइंटिस्ट डॉ. कुशवाह ने पांच मिनट में महिला किसानों को फॉर्म हाउस घुमा दिया। इस दौरान अफसरों ने अन्य विभागीय कर्मचारियों से फोटो खींचने के लिए कहा। इसके बाद इन महिलाओं को सूर्य मंदिर घुमाने के लिए वाहनों से भेज दिया गया। रात को वापस लौटकर महिला कृषकों को गेस्ट हाउस में ठहराया गया और मंगलवार सुबह सभी कार में सवार होकर दतिया निकल गए। डीबी स्टार ने इस पूरे घटनाक्रम को लाइव शूट किया और अफसरों से सीधी बात की, तो वे बहाने बनाने लगे।

महिला किसानों को यह मिलना थी जानकारी

महिला कृषकों को भ्रमण के दौरान उन्नत कृषि तकनीकी, मसाला एवं औषधि फसल, हाईटेक फसल उत्पादन की जानकारी दी जानी चाहिए थी। इससे वह अपने खेत में कम लागत में अच्छी किस्म की सब्जी व फल की पैदावार कर सकें तथा अन्य ग्रामीण महिलाओं को भी यह जानकारी दें।

तीन दिन का है भ्रमण

रौन की महिला किसानों का कृषक भ्रमण तीन दिन का है। 25 मार्च को गोहद में कृषि विभाग की नर्सरी में जानकारी लेने के बाद महिला किसानों का दल अफसरों के साथ 26 मार्च को ग्वालियर पहुंचा। दोपहर तीन बजे सभी महिलाएं व अफसर कारों से रेसकोर्स रोड स्थित एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी पहुंचे। रात को गेस्ट हाउस में रुकने के बाद यह दल 27 मार्च को दतिया निकल गया।

जानकारी तो साइंटिस्ट को देनी थी

महिला किसानों को पौधों, खाद व दवा संबंधी जानकारी साइंटिस्ट को देना थी, लेकिन केवल एक साइंटिस्ट राज सिंह कुशवाह ही आए और उन्होंने विजिट कराई। जहां तक सूर्य मंदिर घूमने की बात है, तो समय होने के कारण महिला किसानों को हम घुमाने ले गए थे। फोटो तो हमें रिकॉर्ड के लिए खींचने ही पड़ते हैं। राकेश शर्मा, एसएडीओ, कृषि विभाग भिंड

अाप कृषि विज्ञान केंद्र के अफसरों से पूछिए

 हम तो रौन से 17 महिला किसानों को कृषक भ्रमण दल कार्यक्रम के लिए यहां लाए थे। एग्रीकल्चर यूनिवर्सिटी व केवीके के साइंटिस्ट को नर्सरी व फॉर्म हाउस की जानकारी देनी थी। इस बारे में मुझे और ज्यादा कुछ नहीं कहना है। किसान महिलाओं ने जो पूछा, साइंटिस्ट ने सभी सवालों के जवाब दिए थे। अनूप दुबे, आरएईओ, कृषि विभाग

पार्किंग में वाहन खड़े होने के बाद सूर्य मंदिर की ओर जातीं महिला किसान।

सूर्य मंदिर परिसर में घूमतीं महिला किसान।

X
लेक्चर की जगह महिला किसानों की पिकनिक और फोटो सेशन
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..