Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» इस बार क्राफ्ट फेयर में घर और खुद को सजाने के आए प्रोडक्ट

इस बार क्राफ्ट फेयर में घर और खुद को सजाने के आए प्रोडक्ट

शहर में कई लोग ऐसे हैं जो घर और खुद को सजाने के लिए हाथ से बनी चीजों और कपड़ों को ही पंसद करते हैं। ऐसे लोगों के लिए शहर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 02:30 AM IST

शहर में कई लोग ऐसे हैं जो घर और खुद को सजाने के लिए हाथ से बनी चीजों और कपड़ों को ही पंसद करते हैं। ऐसे लोगों के लिए शहर में आए दिन एक्जीबिशन्स लगती रहती है। ताकि वह अपनी जरूरतों के सामान को एक ही जगह से खरीद सकें। इस बार ग्वालियर मेले में चार हैंडीफेयर लगाए गए हैं। इसमें देशभर से आए हैंडीक्राफ्ट और हैंडलूम्स की आइटम्स मिल रहे हैं। यह फेयर 7 फरवरी तक रहेंगे। इसमें असम, नागालैंड, मणिपुर, त्रिपुरा, मिजोरम से आए कारीगर, बुनकर और प्रदर्शकों ने वुड, जूट, बैंबू के डेकोरेशन पीस, घर की जरूरतों का सामान को डिस्प्ले किया है। जैसे प्लांटर, लैंप, वॉल हैंगिंग, ज्वेलरी, स्कल्प्चर आदि के स्टॉल ज्यादा आए हैं।

स्कल्प्चरवुड के स्कल्प्चर से नॉर्थ इस्ट की लाइफ दिखाई है। किस तरह से वह छड़ी का सहारा लेकर पहाड़ियों पर चलते हैं। फिर घास काटने, लकड़ियां काटने जाते हैं।

मल्टी पर्पज बॉक्सपीतल का यह बॉक्स कोकोनट शेप में है। इसे ज्वेलरी बॉक्स भी बना सकते हैं और पूजा घर में रख सकते हैं। इसके अलावा हैंगिंग लैंप के लिए भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

जलपरी पैटर्न

सिल्क की साड़ी में जलपरी पैटर्न बना है। यह असम का ट्रेडिशनल पैटर्न है। साड़ी का बेस बेज कलर का है जबकि पैटर्न रेड कलर का है। इसे खास बनाने के लिए बीच-बीच में ब्लू एंड व्हाॅइट कलर का इस्तेमाल किया है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×