• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • कोरियोग्राफी में डांस के साथ थीम का भी महत्व वर्कशॉप में छात्राओं ने सीखा क्लासिकल डांस
--Advertisement--

कोरियोग्राफी में डांस के साथ थीम का भी महत्व वर्कशॉप में छात्राओं ने सीखा क्लासिकल डांस

Dainik Bhaskar

Feb 02, 2018, 02:30 AM IST

Gwalior News - सिटी रिपोर्टर | ग्वालियर कोरियोग्राफी में डांस के साथ थीम का भी महत्व होता है। थीम बेस्ड कोरियोग्राफी में स्टेज...

कोरियोग्राफी में डांस के साथ थीम का भी महत्व वर्कशॉप में छात्राओं ने सीखा क्लासिकल डांस
सिटी रिपोर्टर | ग्वालियर

कोरियोग्राफी में डांस के साथ थीम का भी महत्व होता है। थीम बेस्ड कोरियोग्राफी में स्टेज सेटिंग, लाइट्स और संयुक्त प्रभाव रहता है। यह जानकारी एक्सपर्ट ने छात्राओं को दी। केआरजी कॉलेज में स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ की ओर से कोरियोग्राफी वर्कशॉप का आयोजन किया जा रहा है। गुरुवार को वर्कशॉप में एक्सपर्ट ने बताया कि डांस क्लासिकल हो या फोक, सभी में भाव का महत्व होता है। छात्राओं ने कई स्टेप भी सीखे। इस दौरान छात्राओं की जिज्ञासाओं का समाधान किया गया। इस अवसर पर प्रकोष्ठ की संयोजक डॉ. सोनिया सिंह के अलावा अन्य लोग मौजूद रहे।

वर्कशॉप में एक्सपर्ट ने छात्राओं को विभिन्न स्टेप के साथ चेहरे पर भाव रखने के तरीके बताए।

शो होस्ट बनने के लिए नॉलेज जरूरी

आरजे ट्रेनिंग में एक्सपर्ट ने कहा कि शो होस्ट करने के लिए विविधता होना जरूरी है। लेटेस्ट ट्रेंड की जानकारी जरूरी है, साथ ही करंट अफेयर्स के अलावा अपनी फील्ड की नॉलेज रखें। इसके अलावा आपका उच्चारण बेहतर होना चाहिए। इसके बाद छात्राओं ने शो होस्ट करने का डेमोंस्ट्रेशन दिया। सभी ने अपने-अपने शो को नाम दिया। इसमें कम-ऑन-ग्वालियर, सुहानी सुबह जैसे नाम शामिल हैं।

X
कोरियोग्राफी में डांस के साथ थीम का भी महत्व वर्कशॉप में छात्राओं ने सीखा क्लासिकल डांस
Astrology

Recommended

Click to listen..